Monday , 22 October 2018

किसानों ने लिया नहीं लोन और राजस्‍थान सरकार ने कर दिया माफ, बड़ा घोलमाल !

डूंगरपुर. कृषि सरकारी समिति के रामपुर मेवाड़ा लैम्पस से किसानों के लाखों रुपए के ऋण माफी प्रमाण पत्र बनाए जा रहे है. इस पर विरोध शुरू हुआ कि उन्होंने कभी लोन लिया ही नहीं था. मामले की शिकायत कलेक्टर से की गई है और अब इस मामले में बड़ी गड़बडिय़ां सामने आने खबर है.

ग्रामीणों ने लैंप्स अध्यक्ष फतेहलाल कटारा के नेतृत्व में सहकारिता मंत्री जयपुर, कलेक्टर, भ्रष्टाचार निरोधक विभाग, जिलाप्रमुख और केंद्रीय सहकारी बैंक डूंगरपुर को ज्ञापन प्रेषित किए. फतेहलाल ने बताया कि रामपुर मेवाड़ा लैम्पस से पूर्व के अध्यक्ष और मैनेजर ने मिली भगत से लाखों रुपए के ऋण को बांटने को लेकर सूचियां बना ली. असल में किसानों को राशि दी ही नहीं गई. किसानों ने ज्ञापन के जरिए जानकारी भी मांगी कि लैम्पस रामपुर मेवाड़ा में कितना ऋण बकाया है. कितनों को ऋण दिया और उसे किसने लिया. साथ ही फसल खराबा मुआवजा नहीं मिलने की भी शिकायत हुई है. इस मामले में 8 किसान बसंत रोत, नारायण रोत, अरविंद भगोरा, जगदीश डामोर, कृपाशंकर भगोरा, अरुणा भगोरा, ललिता डामोर, शंकरलाल कटारा ने उनके नाम से किए गए आवेदन और ऋण मुक्ति प्रमाण पत्र बनाए जाने की जांच कराए जाने की मांग रखी है.

The post किसानों ने लिया नहीं लोन और राजस्‍थान सरकार ने कर दिया माफ, बड़ा घोलमाल ! appeared first on Udaipur Kiran

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*