Monday , 22 October 2018

आजादी के बाद खुली प्राथमिक स्कूल अब तक उच्च प्राथमिक नहीं हो पाई

डूंगरपुर. आसपुर उपखंड के खुदरड़ा ग्राम पंचायत के अंदर आने वाले दाद गांव के लोगों की मजबूरी है कि अपने बच्चों को पढ़ाना है तो 5वीं के बाद साढ़े 3 किमी दूर खुदरड़ा भेजना है. अन्यथा बच्चों को पढ़ाने जैसी कोई भी दूसरी सुविधा इस गांव में नहीं मिलेगी.

आजादी के बाद भले ही सरकार ने प्राथमिक स्कूल खोल दी हो, लेकिन पिछले 25 सालों से स्कूल का दर्जा पांचवीं से आठवीं नहीं हो पाया है. हर साल 50 से ज्यादा बच्चे 5वीं कक्षा पास करते है और उन्हें कक्षा 6 में प्रवेश के लिए खुदरड़ा जाना पड़ता है. इसको लेकर ग्रामीणों ने कई बार विधायक से लेकर सरकार और विभाग तक अपनी बात पहुंचाई थी और कहा था कि स्कूल का दर्जा 8वीं तक बढ़ा दिया जाए तो यहां के बच्चों के लिए बड़ी सुविधा हो जाएगी.

लेकिन हकीकत यह है कि ग्रामीणों की मांग पर सरकार, नेता और विभाग ने कोई भी सुनवाई नहीं की है. ग्रामीण पेमजी पटेल, भेरा पटेल, धुलजी आदि बताते है कि इस बार विधानसभा में वोट तभी देंगे तब स्कूल क्रमोन्नत होगी.

Report By Udaipur Kiran

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*