Monday , 22 October 2018

एक ही चिता पर हुई भाई-बहिन की अंत्येष्टि

चित्तौड़गढ़, 09 सितम्बर (उदयपुर किरण). जिले में शनिवार दोपहर सड़क हादसे में मृत भाई-बहिन की उनके पैतृक गांव रावतपुरा में रविवार को एक ही चिता पर अंत्येष्टि हुई. इसमें शामिल हर किसी की आंख नम थी.

जिले के डूंगला उपखंड में आने वाले रावतपुरा निवासी भाई नारायण व इसकी बहिन माया मेघवाल की शनिवार को उदयपुर फोरलेन पर हुवे हादसे में मौत हो गई थी. रविवार को इनके अंतिम संस्कार में हर आंख से आंसू टपक पड़े. अंतिम संस्कार के लिए घर से एक साथ निकली भाई-बहिन कि अर्थी के वक्त परिजनों व रिश्तेदारों के रुदन से कोहराम मच गया. इधर, इनकि मां मांगीदेवी उदयपुर चिकित्सालय में जिंदगी के लिए मौत से संघर्ष कर रही है. हादसे की सूचना पर नारायण के पिता अंबालाल महाराष्ट्र से घर रविवार को घर पहुंचे और पुत्र व पुत्री का शव देखा तो बेहोश हो गए. पोस्टमार्टम के बाद एमबी चिकित्सालय उदयपुर में भाई-बहन सहित एक अन्य युवक का शव परिजनों को सौंप दिया. इसके बाद परिजन शव लेकर रावतपुरा पहुंचे.

एक ही चिता पर दोनों भाई-बहन का अंतिम संस्कार हुआ. वहीं राजपुरा में युवक राधेश्याम मेघवाल का अंतिम संस्कार भी गमगीन माहौल में हुआ. भीषण हादसे की चर्चाएं कस्बे सहित आस-पास में दिन भर रही. राधेश्याम एसबीआई बैंक कानोड में कार्य करता था, जहां भी दिन भर माहौल गमगीन रहा. कार चालक की थोड़ी सी लापरवाही ने एक परिवार को उजाड़ कर रख दिया. रावतपुरा निवासी अंबालाल के पुत्र और पुत्री थे जो दोनों ही मौत के शिकार हो गए. अंतिम संस्कार में गांव सहित आस-पास के ग्रामीण शामिल हुवे. नारायण, माया व उनकी मां को रविवार को महाराष्ट्र जाना था लेकिन हादसे में दोनों भाई-बहिन दुनिया से चल बसे.

Report By Udaipur Kiran

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*