Monday , 10 December 2018
दो राज्यों के पुलिस अफसरों की बॉर्डर बैठक : राजस्थान और गुजरात बॉर्डर के थाने-चौकियों का बनेगा नक्शा

दो राज्यों के पुलिस अफसरों की बॉर्डर बैठक : राजस्थान और गुजरात बॉर्डर के थाने-चौकियों का बनेगा नक्शा

डूंगरपुर. आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर राजस्थान और गुजरात पुलिस ने बॉर्डर की सुरक्षा को लेकर सख्ती के साथ ही लगातार निगरानी को लेकर रणनीति तैयार कर ली है.

एसपी शंकर दत्त शर्मा, एएसपी अशोक मीणा के निर्देशन में बिछीवाड़ा एक होटल में बॉर्डर बैठक हुई. इसमें विधानसभा चुनावों को लेकर अंतरराज्यीय सीमा के सीमावर्ती वृत्ताधिकारी व थानाधिकारी स्तर के अफसर मौजूद रहे. डूंगरपुर डीएसपी गोपालसिंह भाटी और गुजरात के मौड़ासा डीएसपी फाल्गुनी आर पटेल की मौजूदगी में बैठक हुई. इसमें राजस्थान से गुजरात शराब व मादक पदार्थों की तस्करी पर रोकथाम के लिए प्रभावी कार्रवाई पर चर्चा हुई. साथ ही जिले के गुजरात में वांछित व गुजरात के इस जिले में वांछित अपराधियों की सूची तैयार कर एक-दूसरे को सौंपी जाएगी. वाहन चोरी, लावारिस वाहन, गौ वंश तस्करी, मौताणा और अतिवाद के उभरते मुद्दे, बालश्रम पर भी चर्चा की गई. सबसे महत्वपूर्ण दोनों राज्यों के सीमावर्ती पुलिस थाने और चौकियां का एक ऐसा नक्शा तैयार करने पर सहमति बनी जिसमें थानों की जानकारी के साथ ही अफसरों के मोबाइल नंबर, ई-मेल आईडी तक एक-दूसरे को दी जाए ताकि दोनों राज्यों की पुलिस के बीच सामंजस्य बना रहे.

चुनाव के दौरान स्थापित किए जाने वाले चेक पोस्ट, निगरानी स्थल (वॉच पोइंट) पर भी चर्चा करते हुए ठोस कार्रवाई के लिए एक-दूसरे को सूचनाएं देने पर जोर दिया. बैठक में बिछीवाड़ा थानाधिकारी सुनील शर्मा, राम सागड़ा थानाधिकारी मोहम्मद रिजवान, कुआं थानाधिकारी मुकेश मेघवाल, गुजरात राज्य के शामलाजी थानाधिकारी एसजे चौहान, मेघरज थानाधिकारी एसएच शर्मा, मही सागर थानाधिकारी केसी पारगी, मौड़ासा थानाधिकारी पीडी दर्जी, लोकल क्राइम ब्रांच मौड़ासा के एनके रेबारी, केएस सिसोदिया, एसओजी के बीआर भाटिया शामिल हुए.

Report By Udaipur Kiran

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*