Saturday , 15 December 2018
आईएसएल : घरेलू मैदान पर जीत के साथ अभियान की शुरुआत करना चाहेगी दिल्ली

आईएसएल : घरेलू मैदान पर जीत के साथ अभियान की शुरुआत करना चाहेगी दिल्ली

नई दिल्ली, 02 अक्टूबर (उदयपुर किरण). हीरो इंडियन सुपर फुटबॉल लीग (आईएसएल) के पांचवें सत्र के अपने पहले मुकाबले में बुधवार को दिल्ली डायनामोज की टीम अपने घरेलू मैदान जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में एफसी पुणे सिटी से भिड़ेगी.

मैच की पूर्व संध्या पर दिल्ली के कोच जोसेफ गोम्बाउ गोम्बाउ ने कहा, ‘‘हर किसी का मकसद जीतना है और मेरा मकसद भी यही है. हम शुरुआत से प्रतिस्पर्धी टीम के तौर पर गिने जाना चाहते हैं.’’

गोम्बाउ ने अपने देश के चार खिलाड़ियों के साथ नए सीजन के लिए करार किया. मार्कोस तेबार इनमें से सबसे चर्चित नाम हैं. तेबार बीते सीजन में पुणे के लिए खेले थे और अब वह दूसरी बार दिल्ली के लिए खेलते दिखेंगे. बीते सीजन में मिडफील्ड में बेहतरीन प्रदर्शन किया था और अब उनसे यही उम्मीद है कि वह अपनी पुरानी टीम के खिलाफ भी चमकदार खेल जारी रखेंगे.

गोम्बाउ ने कहा, ‘‘मार्कोस काफी अच्छे खिलाड़ी हैं. वह किसी योजना को अमली जामा पहना सकते हैं. एक अच्छा इंसान होने के अलावा वह हर किसी से दोस्ताना हैं और भारतीय खिलाड़ियों को उनका साथ काफी पसंद आ रहा है. खुले मन वाला ऐसा खिलाड़ी टीम के लिए बेहद जरूरी होता है.’’

पुणे के कोच मिग्वेल एंजेल पुर्तगाल जो बीते सत्र में दिल्ली के कोच थे, ने कहा कि मेरे लिए यह एक अलग तरह की चुनौती है. दिल्ली का धन्यवाद. इसके लिए करार करके मैं खुश था लेकिन अब मैंने पुणे के साथ करार कर लिया है. मुझे पुणे पर भरोसा है. हमारे पास अच्छे खिलाड़ी हैं. हम सुधार की कोशिश करेंगे. यह आसान नहीं होगा लेकिन हमें अपनी रणनीति पर भरोसा है.

पुणे के लिए एलिलियानो अल्फारो और मार्सेलिन्हो काफी अहम साबित होंगे. इनकी जोड़ी खतरनाक है और बीते सीजन में इन्होंने इसे साबित भी किया है. दिल्ली की डिफेंस को इनसे काफी सावधान रहने की जरूरत है. इसके अलावा तेजतर्रार विंगर अशिक कुरुनियन और निखिल पुजारी अलग-अलग छोर पर पुणे के लिए जिम्मेदारी सम्भालेंगे. दिल्ली के फुल बैक खिलाड़ियों को इन्हें रोकने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगाना होगा.

पुणे की टीम स्थायित्व लिये नजर आती है और पुर्तगाल को सकारात्मक शुरुआत की उम्मीद है. हालांकि, दिल्ली की युवा टीम ऊर्जा से भरपूर है और वह पुणे को आसानी से तीन अंक नहीं लेने देगी. ऐसे में देखना होगा कि क्या दिल्ली के मौजूदा खिलाड़ी बुधवार को जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में अपने पूर्व कोच की रणनीति को नाकाम कर पाते हैं या नहीं.

Source : http://udaipurkiran.in/hindi/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*