Monday , 10 December 2018
आईएसएल-5 : आक्रामक गोवा से सावधान रहना चाहेगी चेन्नइयन

आईएसएल-5 : आक्रामक गोवा से सावधान रहना चाहेगी चेन्नइयन

चेन्नई, 05 अक्टूबर (उदयपुर किरण). इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन में शनिवार को एफसी गोवा का सामना मौजूदा विजेता चेन्नइयन एफसी से होगा. जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में होने वाले इस मैच में गोवा की नजरें चेन्नइयन से पिछले सीजन में प्लेऑफ में मिली हार का बदला लेने पर होंगी. पिछले सीजन में चेन्नइयन ने गोवा को सेमीफाइनल मुकाबले में मात देकर बाहर कर दिया था. वो मुकाबला काफी रोचक था और इसी तरह इस मैच के भी रोमांचक होने की पूरी संभावनाएं हैं.

पिछले सीजन में चेन्नइयन ने गोवा को 4-1 के एग्रीगेट स्कोर के दम पर मात दी थी. गोवा ने पूरे सीजन में शानदार प्रदर्शन किया था और तीसरा स्थान हासिल किया था. उसने लीग में पिछले सीजन सबसे ज्यादा 42 गोल किए थे. कोच सर्जियो लोबेरो की गोवा ने हालांकि 28 गोल भी खाए थे, जो निचले स्थान पर रहने वाली नार्थ ईस्ट युनाइटेड से एक गोल ज्यादा था. डिफेंस अभी भी लोबेरा की सबसे बड़ी चिंता है. पहले मैच में नार्थईस्ट के खिलाफ 2-2 से ड्रॉ ने बता दिया था कि इस सीजन में टीम की ताकत और कमजोरियां क्या हैं. डिफेंस ने दो गोल खाए थे तो पिछले सीजन में सबसे ज्यादा गोल करने वाले फरान कोरोमिनास ने दो गोल किए भी थे.

लोबेरा ने कहा, “ एक कोच के तौर पर कई ऐसी चीजें मुझे लगी हैं, जहां काम करने की जरूरत है लेकिन हम आक्रामक खेल खेलते आए हैं और इसे इस मैच में भी जारी रखेंगे.”

गोवा के लिए गोलकीपिंग एक मुद्दा रहा है. इस सीजन में कोच ने लालथुमवाई राल्ते को टीम में शामिल किया है लेकिन पिछले मैच में कोच ने मोहम्मद नवाज को उतारा था. नवाज की गलती के कारण नार्थईस्ट युनाइटेड मैच का पहला गोल करने में सफल रही थी. उन्होंने बॉक्स के बाहर गेंद को हाथ से पकड़ लिया था. यह देखना दिलचस्प होगा कि क्या वह अपनी जगह बनाए रख पाते हैं या नहीं. लोबेरा के दिमाग में यह बात साफ है कि उनकी टीम का सामना एक ऐसी टीम से है जो डिफेंसिव तौर पर काफी मजबूत है.

मौजूदा विजेता को पहले मैच में बेंगलुरू एफसी से बेंगलुरू में एक करीबी हार का सामना करना पड़ा था. उस हार के बाद चेन्नइयन की कोशिश वापसी करने की होगी. टीम के कोच जॉन ग्रेगोरी हालांकि अपनी टीम के प्रदर्शन से खुश हैं लेकिन मानते हैं की टीम को सुधार करने की जरूरत है.

पिछले सीजन में ग्रेगोरी की संतुलित शैली को भेदने में लोबेरा विफल रहे थे. ग्रेगोरी चाहेंगे की इस बार भी इस तरह की स्थिति हो और गोवा, चेन्नइयन के खेल को लेकर असमंजस में ही रहे. पिछले सीजन में दोनों टीमों ने चार मैच खेले थे जिसमें से गोवा को सिर्फ एक में जीत मिली थी.

चेन्नइयन के कोच ने कहा, “गोवा को अगर आधा मौका भी मिलता है तो वह स्कोर कर सकते हैं. हमें कोरोमिनास से सावधान रहना होगा, जिन्होंने पिछले मैच में दो गोल किए थे. हमें इस बात को सुनिश्चित करना होगा कि हम डिफेंस अच्छा करें. ”

http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*