Saturday , 15 December 2018
अमेरिकी प्रतिबंध के बावजूद नवंबर में ईरान से दो भारतीय कंपनियां करेंगी तेल आयात

अमेरिकी प्रतिबंध के बावजूद नवंबर में ईरान से दो भारतीय कंपनियां करेंगी तेल आयात

नई दिल्ली, 08 अक्टूबर (उदयपुर किरण).केन्द्रीय तेल एवं प्रकृति गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने सोमवार को ईरान से तेल आयात से संबंधित विषय पर स्पष्टता से कहा कि भारत अपने राष्ट्रीय हितों पर ध्यान देगा. उन्होंने बताया कि दो भारतीय तेल कंपनियों ने नवंबर माह में तेल आयात के लिए ईरान को आर्डर दिया है.

केन्द्रीय मंत्री ने उर्जा फार्म से जुड़े एक कार्यक्रम में उक्त बातें कहीं.उन्होंने कहा कि ईरान से तेल आयात का ऑर्डर देने पर अमेरिकी प्रतिबंधों के तहत इसको लेकर भारत पर कोई कार्रवाई होगी या नहीं इस बारे में उन्हें कुछ नहीं पता. यह पहली बार है कि सरकार ने ईरान से तेल आयात पर स्पष्टता से बयान दिया हो. ईरान को लेकर अमेरिकी प्रतिबंध 4 नवंबर से लागू हो रहे हैं. इसके तहत अमेरिका ने पेयमेंट चैनल पर भी रोक लगा दी है. धर्मेन्द्र प्रधान ने कहा कि भारत की अपनी उर्जा जरूरतें हैं. इन जरूरतों के लिए देशहित में सभी उपयोगी कदम उठाए जायेंगे.

भारतीय तेल निगम (आईओसी) के अध्यक्ष संजीव सिंह ने कहा कि आईओसी के अलावा मेंगलोर रिफाइरी एवं पेट्रोकेमीकल (एमआरपीएल) ने भी तेल के आयात का आवेदन किया है. दोनों कंपनियों ने मिलाकर 12.5 लाख मिट्रिक टन तेल आयात का आर्डर दिया है.
सिंह ने कहा कि फिलहाल पेयमेंट के विकल्प तलाशे जा रहे हैं. ईरान भारतीय रुपये में भुगतान लेने को तैयार है. यूको और आईडीबीआई बैंकों के माध्यम से भुगतान किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि इस वर्ष 9 एमटी और मासिक औसत के हिसाब से 0.75 एमटी तेल का आयात किया गया है.

http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*