Saturday , 20 October 2018

कैलिफोर्निया में सन 2020 से प्रतिबंधित कर दिया जाएगा कमजोर पासवर्ड का उपयोग


लॉस एंजिलिस. अमेरिका में सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था एवं सिलिकॉन वैली वाले राज्य कैलिफोर्निया में सन 2020 से कमजोर पासवर्ड का उपयोग प्रतिबंधित कर दिया जाएगा. इसका सीधा असर इलेक्ट्रॉनिक प्रणाली एवं इंटरनेट से जुड़े सभी तरह के उपकरण एवं नेटवर्किंग प्रणाली पर पड़ेगा. कैलिफोर्निया राज्य प्रशासन ने हाल ही में एक कानून (इन्फर्मेशन प्राइवेसी : कनेक्टेड डिवाइसेस बिल) पारित किया है.

उसमें उल्लेख है कि इंटरनेट से संबंधित ऐसी सभी डिवाइस जिन्हें बेचा या इस्तेमाल किया जा रहा है, उसके लिए उच्च सुरक्षा मानकों का इस्तेमाल करना जरूरी होगा. साथ ही कंपनियां इंटरनेट से जुड़ने वाले प्रत्येक गैजेट के लिए ‘यूनिक पासवर्ड’ देने को बाध्य होंगी. यह प्रावधान सन 2020 से लागू होंगे. उसके बाद साधारण पासवर्ड जैसे 12345, एबीसी या एडमिन जैसे साधारण पासवर्ड काम नहीं करेंगे.
जिस डिवाइस में इनका उपयोग किया जाएगा, वह जटिल पासवर्ड ही स्वीकार करेगी. ऐसा इसलिए क्योंकि आसान पासवर्ड के कारण साइबर हमले बढ़ गए हैं और उनके कारण व्यापक नुकसान होता है. कानून में यह भी कहा गया है कि डिवाइस निर्माता कंपनियों को यूजर के लिए उचित सुरक्षा उपाय देने ही होंगे.

पहली बार डिवाइस उपयोग करते समय यूजर स्वयं यूनिक पासवर्ड तय करके उसे सुरक्षित कर सकेंगे. अगर कंपनी यूजर को उचित सुरक्षा उपाय प्रदान नहीं करती है तो वे कंपनी पर मुकदमा भी कायम कर सकते हैं. साइबर विशेषज्ञों ने हैकिंग की घटनाओं के अध्ययन में पाया कि डिफाल्ट एवं आसानी से पता किए जा सकने वाले पासवर्ड पता करके हैकर व्यापक नुकसान पहुंचाते हैं. वे ऐसे लोगों को निशाना बनाते हैं, जो पासवर्ड भी बार-बार नहीं बदलते हैं. वर्ष 2016 में ट्विटर, स्पॉटीफाइ एवं रेडिट उन वेबसाइटों में शामिल थीं, जिन्हें एक साइबर हमले से ऑफलाइन कर दिया गया था. घरों में इंटरनेट से जुड़े हजारों डिवाइस में कमजोर पासवर्ड होने के कारण ऐसा हुआ था. अमेरिका में इन दिनों ‘वीपीएनफिल्टर’ वायरस के जरिये घरों में लगे नेटवर्किंग एवं इंटरनेट राउटर को नुकसान पहुंचाया जा रहा है. अब तक 5 लाख से अधिक डिवाइस इससे प्रभावित हो चुके हैं.

http://udaipurkiran.in/hindi

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*