Monday , 22 October 2018

अंधाधुन ने रचा इतिहास

मुंबई: कभी कभी फिल्में अपनी रिलीज़ से पहले के बज़ में उतनी चर्चित नहीं रहती लेकिन दर्शकों की पसंद और एक दूसरे को रिकमेंड करने की आदत के चलते उनकी असली पहचान होती है. ऐसा ही कुछ फिल्म अंधाधुन के साथ हुआ है जिसने अपने लिए एक नया रिकॉर्ड बना दिया है.
श्रीराम राघवन के निर्देशन में बनी और आयुष्मान खुराना, राधिका आप्टे और तब्बू स्टारर फिल्म अंधाधुन ने अपने पहले सोमवार को तीन करोड़ 40 लाख रूपये का कलेक्शन किया है. और यही एक रिकॉर्ड है. फिल्म को दो करोड़ 70 लाख रूपये की ओपनिंग मिली थी और आमतौर पर पहले सोमवार को कलेक्शन 40 से 50 प्रतिशत तक गिरते हैं और वो भी फिल्म की कमाई का अच्छा संकेत होता है लेकिन यहां उल्टा हो गया है. फिल्म ने चौथे दिन करीब 26 प्रतिशत की बढ़त ले ली है. पहले दिन के मुकाबले मिला ये जब माउथ पब्लिसिटी के साथ फिल्म के अच्छे कंटेंट और थ्रिलिंग वैल्यू को भी दर्शा रहा है
फिल्म को अब चार दिन में 18 करोड़ 40 लाख रूपये का कलेक्शन मिल गया है. अंधाधुन को पहले तीन दिन में 15 करोड़ रूपये का कलेक्शन मिला था
इस अपवर्ड ट्रेंड से साफ़ है कि फिल्म इस हफ़्ते में 30 करोड़ के आसपास तक पहुंच जायेगी. वैसे अंधाधुन के ट्रेंड ने भी स्पष्ट कर दिया था कि फिल्म को लेकर कुछ कमाल दिखने वाला है. पहले दिन के मुकाबले फिल्म को शनिवार को करीब 88 प्रतिशत की ग्रोथ मिली जबकि दूसरे के मुकाबले तीसरे दिन 41 प्रतिशत की. दरअसल अंधाधुन उन फिल्मों की कटेगरी में शामिल है, जिसका कंटेंट धीरे धीरे दर्शकों की संख्या बढ़ाता होता है. फिल्म को माउथ पब्लिसिटी के जरिये अब तक अच्छी कमाई हुई है और ये आगे भी जारी रहने की पूरी उम्मीद है. श्रीराम राघवन को मिस्ट्री और थ्रिलर फिल्मों का महारथी कहा जाता है. अपनी एक शॉर्ट फिल्म को इस बार उन्होंने पूरी फिल्म के रूप में अंधाधुन के जरिये पेश किया है .
फिल्म अंधाधुन एक नेत्रहीन पियानो प्लेयर की कहानी है. राधिका आप्टे, इस नेत्रहीन के लेडी लव के किरदार में है. आयुष्मान, तब्बू के घर पियानो बजाने जाते हैं और इस दौरान एक मर्डर हो जाता है. क्या वो इस हत्या के गवाह हैं? क्या उन्होंने मर्डर देखा है ? फिल्म में इसी तरह की मिस्ट्री है. फिल्म को बनाने में करीब 22 करोड़ रूपये की लागत आई है .

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*