Monday , 15 October 2018

पूर्व मंत्री ऊषा पूनिया और पूर्व विधायक प्रतिभा सिंह ने भाजपा से दिया इस्तीफ़ा

जयपुर, 10 अक्टूबर (उदयपुर किरण). विधानसभा चुनावों से पहले प्रदेश भाजपा के नेताओं को पार्टी छोडकर जाने का सिलसिला जारी है. बुधवार को पूर्व मंत्री ऊषा पूनिया और भाजपा नेता प्रतिभा सिंह ने पार्टी छोडने की घोषणा की है. प्रतिभा सिंह पहले कांग्रेस से विधायक रह चुकी है और उन्होंने 2015 में कांग्रेस छोड़कर भाजपा ज्वाईन की थी. भाजपा में तवज्जो नहीं मिलने पर उन्होंने नवलगढ में इस्तीफे की घोषणा की है. प्रतिभा सिंह नवगठित तीसरे मोर्चे में शामिल हो सकती है. इससे पहले सांगानेर विधायक घनश्याम तिवाडी और शिव विधायक मानवेन्द्र सिंह ने भी भाजपा छोडी.

बुधवार को पिंकसिटी प्रेस क्लब में मीडिया के समक्ष पूर्व मंत्री ऊषा पूनिया ने पार्टी नेताओं की सुनवाई नहीं होने का आरोप लगाते हुए पार्टी छोडने की घोषणा की. उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा कार्यालय सिर्फ मिलन स्थल बनकर रह गया है और सभी कार्य मुख्यमंत्री निवास से संचालित किए जाते हैं. इसके कारण कार्यकर्ताओं के काम नहीं होते. चुनावी सीजन में पार्टी छोडने के सवाल पर उनका कहना था कि वे कब तक इंतजार करते. पार्टी ने पिछले दस वर्षों में उन्हें तवज्जो नहीं दी. पूर्व मंत्री होने के नाते कार्यकर्ता उनके पास काम की उम्मीद में आते हैं और बार बार कहने के बाद भी सरकार में उनके कार्य नहीं हो पा रहें हैं.

ऐसे में कार्यकर्ताओं की पीडा से व्यथित होकर वे पार्टी छोड रही है. प्रेसवार्ता के दौरान ऊषा पूनिया ने कहा कि पार्टी ने उनका इस्तेमाल वोट बैंक को साधने के लिए किया है. अब पार्टी में जाट नेताओं की भी कोई कद्र नहीं हो रही है. जाट राजनीति के सवाल पर पूनिया ने कहा कि जनप्रतिनिधि तो सभी समाजों का होता है लेकिन चुनावों में टिकट जाति और समाज देखकर ही दिए जाते हैं. कांग्रेस में जाने के सवाल पर कहा कि भाजपा छोडने के बाद अभी सिर्फ वे चिंतन करेंगी और उनका किसी भी पार्टी में जाने का कोई इरादा नहीं है.

http://udaipurkiran.in/hindi

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*