Saturday , 20 October 2018

तबाही मचाने के बाद कमजोर पड़ा तितली

नई दिल्‍ली . तूफान तितली से प्रभावित ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तटवर्ती इलाकों में बचाव तथा राहत कार्य तेजी से जारी है. आंध्र प्रदेश का श्रीकाकुलम जिला तूफान से सबसे अधिक प्रभावित हुआ है. राज्य में तूफान से मरने वालों की संख्या 8 हो गई है, जिसमें 5 लोगों की श्रीकाकुलम में और 3 लोगों की विजयानगरम में मौत हुई.

titli-storm

कल ये तूफान सुबह ओडिसा में दक्षिणी गोपालपुर और आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम जिले में पलासा पहुंचा. इस दौरान करीब 150-160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार की हवाओं के साथ तेज बारिश हुई.

तूफान के कारण ओडिसा के गजपति, गंजम और रायगड़ा जिलों में जनजीवन पर असर पड़ा है. तीन लाख लोगों को राज्‍य में विभिन्‍न स्‍थानों पर राहत शिविरों में पहुंचाया गया है. एनडीआरएफ की ओडिशा में 14, आंध्रप्रदेश में 4 और पश्चिम बंगाल में 3 टीमें तैनात की गई हैं.

मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने जिले के अधिकारियों के साथ टेली-कांफ्रेंस की और उन्हें हाई अलर्ट पर रहने के लिए कहा है. एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के दलों को राहत एवं बचाव अभियानों के लिए श्रीकाकुलम और पड़ोसी विजयनगरम जिलों में तैनात किया गया है. ओडिशा और आंध्रप्रदेश के तटीय इलाकों से टकराने के बाद फिलहाल ये तूफान कमज़ोर होकर पश्चिम बंगाल की ओर बढ़ रहा है.

मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों में तेज़ बारिश का अनुमान जताया है. मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई है. तूफान से हुए नुकसान की स्थिति में प्रधानमंत्री मोदी ने आंध्र और ओडिशा के मुख्यमंत्रियों से बात कर उन्हें केंद्र की ओर से हर संभव मदद का भरोसा दिया है.



http://udaipurkiran.in/hindi

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*