Wednesday , 14 November 2018

अरुण यादव के साथ अन्याय हुआ, बुधनी में उनका स्वागत है: सीएम शिवराज

भोपाल, 09 नवम्बर (उदयपुर किरण). कांग्रेस द्वारा बुधनी सीट से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के सामने पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव को टिकट दिया गया है. इस पर मुख्यमंत्री चुटकी लेते हुए कहा है कि अरुण यादव के साथ अन्याय हुआ है, फिर भी बुधनी में उनका स्वागत है. वहीं, अरुण यादव में भी कड़े तेवर दिखाए हैं. उन्होंने कहा है कि वे अपनी जिम्मेदारी जी-जान से निभाएंगे और शिवराज को हराएंगे.

दरअसल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शुक्रवार को सुबह कफ्र्यू वाली माता के दर्शन करने पहुंचे थे. उन्होंने माता के पूजन-अर्चन के बाद पत्रकारों से चर्चा की. इस दौरान उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने उनके सामने अरुण यादव का टिकट देकर तीन महीने के भीतर दूसरी बार अन्याय किया है. पहले उन्हें अध्यक्ष पद से हटाया और अब कहीं और से चुनाव न लड़ाकर बुधनी से ही टिकट दे दिया. उन्होंने कहा कि बुधनी में अरुण यादव का स्वागत है. मैं कार्यकर्ताओं से निवेदन करता हूं कि वे अरुण यादव को यथोचित सम्मान दें.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुधनी के पास के ही गांव जैत के रहने वाले हैं. ऐसे में उन्हें यहां चुनाव प्रचार करने की भी जरूरत नहीं पड़ती और वे बड़े अंतर से जीतते हैं. चुनावों के दौरान मुख्यमंत्री प्रदेशभर का दौरा कर अन्य उम्मीदवारों के प्रचार में ही जुटे रहते हैं. ऐसे में कांग्रेस ने अरुण यादव को बुधनी से टिकट दी है, ताकि सीएम अपनी सीट को बचाने में जुट जाएं. बुधनी में 40 फीसदी वोटर्स आदिवासी हैं. कांग्रेस को यहां 1998 में आखिरी बार जीत मिली थी, इसके बाद 2003 से यहां लगातार भाजपा का कब्जा रहा है. पिछले चुनावों में शिवराज ने कांग्रेस उम्मीदवार महेन्द्र सिंह चौहान को यहां से 84 हजार से अधिक वोटों से हराया था.

2008 में मुख्यमंत्री ने कांग्रेस के महेश सिंह राजपूत को 40 हजार से ज्यादा मतों से पराजित किया था. इस बार अरुण यादव मुख्यमंत्री के सामने टिक पाते हैं या नहीं, यह तो परिणाम के बाद ही पता चलेगा, लेकिन दोनों के बीच तकरार का दौर शुरू हो गया है.

http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*