Monday , 10 December 2018
स्पीकर कैलाश मेघवाल का शाहपुरा में विरोध, 142 भाजपाईयों ने दिया इस्तीफा

स्पीकर कैलाश मेघवाल का शाहपुरा में विरोध, 142 भाजपाईयों ने दिया इस्तीफा

भीलवाड़ा, 13 नवम्बर (उदयपुर किरण). जिले के शाहपुरा विधानसभा सुरक्षित सीट से भाजपा द्वारा विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल को ही दोबारा भाजपा प्रत्याशी घोषित करने का शाहपुरा के भाजपाईयों ने विरोध किया है. मंगलवार को यहां प्रधान गोपाल गुर्जर व पूर्व जिला उपाध्यक्ष ठा. राजेंद्र सिंह खामोर की अगुवाई में भाजपाईयों की बैठक में वसुंधरा तेरे से कोई बैर नहीं मेघवाल तेरी खैर नहीं का नारा बुलंद कर मेघवाल को हराने का निर्णय लिया.

उल्लेखनीय है कि इन भाजपाईयों का आरोप है कि कैलाश मेघवाल ने अपने वर्तमान कार्यकाल भाजपाईयों का अपमान करते हुए हमेशा कांग्रेस के पदाधिकारियों को ही तवज्जो दी है. केवल विकास कराने से ही दोबारा जीत नहीं हो जाती है. कार्यकर्ता अब अपने अपमान का बदला हराकर ही चुकायेगें. बैठक में निर्णय के मुताबिक आज पहले दिन कुल 142 जनों ने भाजपा से अपना इस्तीफा देते हुए भाजपा के जिला, प्रदेश व राष्ट्रीय पदाधिकारियों को अवगत करा दिया है.

बैठक में लिए निर्णयों की जानकारी देते हुए भाजपा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष व खामोर सरपंच ठा. राजेंद्र सिंह ने बताया कि कैलाश मेघवाल के जीतने के बाद से ही हमेशा ही कांग्रेस पदाधिकारियों को तवज्जो दी है. भाजपाईयों का हर बार यह कह कर अपमान किया कि ये तो किरायेकर्ता है. वो तो अपना चुनाव भी पैसे के बल पर जीते है. साढे चार साल तक इन भाजपाईयों व मेघवाल के मध्य सांप छछुंदर का खेल चलता रहा. उन्होंने बताया कि मेघवाल के संवैधानिक पद पर होने के बाद भी हर बार उनके दौरे में कांग्रेस के पदाधिकारी साथ चलते और मंच पर शिरकत करते थे तब उनको संविधान का भान नहीं होता था. आज किस मुंह से भाजपा को साथ लेकर चलने की बात करते है. ठा. खामोर ने बताया कि पांच सालों में भाजपा कार्यकर्ताओं के अपमान का बदला लेने का समय आ गया है. वो सभी मेघवाल की शाहपुरा से दावेदारी और प्रत्याशी घोषणा का विरोध करते है तथा पार्टी हाईकमान से पुर्नविचार के लिए कहा गया है. ऐसा न होने पर सभी भाजपाई मेघवाल को चुनाव में हरा कर बदला लेगें.

प्रधान गोपाल गुर्जर ने कहा कि आज तो काफी कम कार्यकर्ता ही बैठक में आ सके. 15 नवंबर को शाहपुरा में वृहद स्तर पर बैठक बुलायी गयी है जिसमें शाहपुरा सीट से भाजपा प्रत्याशी के निर्णय के बारे में आगे रणनीति तैयार की जायेगी. उन्होंने कहा कि कैलाश मेघवाल को कतई बर्दाश्त नहीं किया जायेगा. प्रतयाशी न बदलने पर भाजपाई आर पार की लडाई लड़ते हुए किसी भी स्तर पर जा सकते है. उन्होंने कहा कि साढ़े चार साल तक भाजपा पदाधिकारियों व जनप्रतिनिधियों ने जो मेघवाल के सानिध्य में अपमान का कड़वा घूंट पीया है उसका जहर उगलने का समय आ गया है तथा उनको इस बार भाजपाई बता देगें कि शाहपुरा कोई चरागाह नहीं है जो यहां आकर जीत जाए.

आज की बैठक में भाजपा के वरिष्ठ नेता पूर्व उप प्रधान गोपाल धूपड़, पूर्व महामंत्री विमल झंवर, भाजपा जिला मंत्री मूलसिंह गिरड़िया, भाजपा के दावेदार अविनाश जीनगर, किसान मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य रामजस गुर्जर, पूर्व सीआर दुर्गाशंकर शर्मा, सरपंच संघ अध्यक्ष निहाल माहेश्वरी, पूर्व सरपंच दुर्गाप्रसाद काबरा, पूर्व पालिका अध्यक्ष कमला काबरा, जिला परिषद सदस्य प्रिंयका गुर्जर व सीमा गुर्जर के अलावा सरपंच, पंचायत समिति सदस्य व भाजपा कार्यकर्ता मौजूद रहे.

http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*