Tuesday , 11 December 2018
कांग्रेस में सूची जारी होने से पहले तो भाजपा में सूची जारी के बाद बवाल

कांग्रेस में सूची जारी होने से पहले तो भाजपा में सूची जारी के बाद बवाल

जयपुर, 13 नवम्बर (उदयपुर किरण). भारतीय जनता पार्टी में जहां उम्मीदवारों की सूची जारी होने के बाद बवाल मचा है, वहीं कांग्रेस में हालात इसके उलट है. कांग्रेस में टिकट जारी होने से पहले प्रदर्शन, विरोध, हंगामा और नेताओं की नींद खोलने वाली सड़कों पर कार्यकर्ताओं की भीड़ परेशानी का कारण बन चुकी है. सूची जारी होने के बाद मचने वाले बवाल से बचने के लिए कांग्रेस लगातार मंत्रणा कर रही है इसके बाद भी अधिकांश सीटों पर उसको बागियों का डर सता रहा है. वहीं बीजेपी सूची जारी होने के दूसरे दिन डैमेज कंट्रोल में जुटी रही. बगावती नेताओं को गले लगाने और गिले -शिकवे लगाने का दौर चला लेकिन जिन दिग्गज नेताओं ने पार्टी छोडी और निर्दलीय ताल ठोकने की धमकी के साथ भाजपा को घेरा उससे पार्टी की बैचनी बढ़ गई है.

कांग्रेस में सोमवार को नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी के निवास स्थान पर फुलेरा से स्पर्धा चौधरी को टिकट मिलने की आशंका के विरोध में प्रदर्शन किया. लोग यहां से किसी स्थानीय को उम्मीदवार बनाए जाने की मांग कर रहे है. इसी तरह का विरोध सांगानेर सीट, किशनपोल सीट, विद्याधर नगर सीट, आमेर सीट, चौमू सहित अजमेर,किशनगढ़, अलवर सहित कई जिलों की सीटों में सामने आ चुका है. कांग्रेस में उम्मीदवारों को इस बार सत्ता विरोधी लहर की संभावना को देखते हुए उनकी सीट निकलना पक्की नजर आ रही है ऐसे में इस बार कांग्रेस से किसी विधानसभा सीट से संभावित प्रत्याशी अपना नाम पर मुहर लगवाना चाहते है यहीं कारण है कि कांग्रेस में टिकटों को लेकर बीजेपी से दोगूना ज्यादा घमासान है.

राजे पर पूरी आस: इधर टिकट नहीं मिलने और सूची में नाम नहीं आने से कुछ निराश दिखे परिवहन मंत्री यूनुस खान ने साफ किया वो पूरी तरह मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के साथ है उन्होंने कहा कि टिकट नहीं मिला तो भी वह भाजपा के चुनाव प्रचार में जुटेेंगे.

http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*