Monday , 21 January 2019
नाटक में दिखा पर्यावरण प्रदूषण और दहेज का दानव

नाटक में दिखा पर्यावरण प्रदूषण और दहेज का दानव

बेगूसराय,12 जनवरी (उदयपुर किरण). बाल रंगमंच आर्ट एंड कल्चरल सोसाइटी द्वारा उत्क्रमित मध्य विद्यालय कसहा में चल रही दस दिवसीय नाट्य कार्यशाला का समापन शनिवार को हो गया. नाट्य कार्यशाला में 40 छात्र-छात्राओं को नाट्य विधा का पाठ युवा रंगकर्मी ऋषिकेश कुमार पढ़ा रहे थे. नाट्य कार्यशाला की समाप्ति पर तीन लघु नाटकों की प्रस्तुति बाल कलाकारों ने की जिसमें पर्यावरण एवं शिक्षा पर आधारित ‘संभल जाओ’ का निर्देशन ऋषिकेश कुमार तथा ‘दहेज प्रथा’ का निर्देशन ओपेरा आर्ट सोसाइटी के निदेशक हरिकिशोर ठाकुर ने किया. लघु नाटकों के माध्यम से दिखाया गया कि पर्यावरण के साथ छेड़छाड़ करोगे तो, क्या मनुष्य जीवित रह पाओगे. मनुष्य अपनी सुख-सुविधा के लिए जिस तरह से पेड़ को काट रहे हैं, इससे पर्यावरण ही दूषित हो जाएगा. मानव खुद अपनी मृत्यु को गले लगाने को आतुर है. जीवित रहना है तो पेड़ लगाओ पर्यावरण बचाओ.
तीसरे नाटक में बच्चों ने दहेज प्रथा को अभिनय से प्रदर्शित किया. इसमें दिखाया कि दहेज के कारण बेटियों को प्रताड़ित किया जाता है. यह जुल्म कब तक बेटियां सहती रहेंगी. बेटियों को तब सम्मान मिलेगा जब दहेज प्रथा खत्म होगी. नाटक में स्वीटी, निशा, सोनम भारती, इंदू, कुमकुम, अंकिता, रवीश, मंजेश एवं शिवम ने सशक्त अभिनय किया. मौके पर बाल रंगमंच के राहत रंजन, विकेश कुमार एवं प्रधानाध्यापक रामनरेश भगत आदि मौजूद थे.

http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*