Thursday , 27 February 2020
अमेरिका-ईरान के बीच तनाव जारी, बगदाद में यूएस एंबेसी के बाहर 3 रॉकेट दागे

अमेरिका-ईरान के बीच तनाव जारी, बगदाद में यूएस एंबेसी के बाहर 3 रॉकेट दागे

नई दिल्ली:अमेरिका और ईरान के बीच तनाव थमने का नाम नहीं ले रहा है. इराक की राजधानी बगदाद में अमेरिकी दूतावास के बाहर तीन रॉकेट दागने की खबर मिल रही है. हालांकि हमला किसने किया इस बात की पुष्टि फिलहाल नहीं हो सकी है.

बगदाद के अति सुरक्षित ग्रीन जोन में अमेरिकी दूतावास के पास तीन रॉकेट दागे गये. गृह मंत्रालय के अधिकारी ने यह जानकारी दी है. अधिकारी के अनुसार सोमवार की रात करीब 12 बजे ग्रीन जोन में अमेरिकी दूतावास के पास तीन रॉकेटों से हमला किया गया.

सूत्रों के अनुसार इस हमले में किसी के हताहत होने की तत्काल रिपोर्ट नहीं है. टाइग्रिस नदी पर स्थित इस ग्रीन जोन पर विद्रोही अक्सर मोटार्र और रॉकेटों से हमला करते रहे है.

पिछले दिनों हिजब्बुला विद्रोहियों द्वारा इराक में अमेरिकी दूतावास पर रॉकेट से हमलों के बाद अमेरिका ने बगदाद अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर हवाई हमला कर ईरान के शीर्ष कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी और कुर्दिश विद्रोहियों के कमांडर को मार गिराया था.

इसस पहले ईरान के साथ जारी तनाव के बीच अमेरिका ने बड़ा दावा किया था. अमेरिका के मुताबिक, जिस दिन ईरान के जनरल कासिम सुलेमानी को मारा गया था ठीक उसी दिन एक और एयर स्ट्राइक की गई थी. इस हमले में ईरानी सेना के एक और सीनियर अधिकारी अब्दुल रजा शहलाईशाना को निशाना बनाया गया था, जो कि सफल नहीं हो सका. इस हमले के बाद ईरान ने भी पलटवार किया था और अमेरिकी दूतावासों को निशाना बनाया था.

समाचार एजेंसी एसोसिएट प्रेस के मुताबिक एक अमेरिकी अधिकारी ने नाम नहीं छपने की शर्त पर यह चौंकाने वाला खुलासा किया था. अधिकारी ने बताया था कि ईरान सेना के दोनों शीर्ष अधिकारी अमेरिकी सेना के हिट लिस्ट में थे.

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि ईरान के कमांडर कासिम सुलेमानी पश्चिमी एशिया में अमेरिका के चार दूतावासों पर हमले की योजना बना रहा था. यह पूछे जाने पर कि क्या अन्य दूतवासों पर बड़े पैमाने में हमले की योजना थी?

इस पर ट्रंप ने कहा था, ‘मैं यह साफ तौर पर कह सकता हूं कि चार दूतावासों पर हमले की योजना तैयार की गई थी.’ राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि बगदाद में स्थित दूतावास इनमें में एक था.