Monday , 26 August 2019

एक आदिवासी विकास विभाग के हॉस्टल की एक छात्रा की मौत, अधीक्षिका सस्पेंड

सुकमा .छत्तीसगढ़ के आदिवासी बाहुल्य सुकमा जिले में एक आदिवासी विकास विभाग के हॉस्टल की एक छात्रा की मौत मंगलवार को हो गई. छात्रा को लगातार दस्त के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. छात्रा की मौत के बाद आदिवासी विकास विभाग ने हॉस्टल अधीक्षिका पर कार्रवाई करते हुए उसे सस्पेंड कर दिया है.
सुकमा के कन्या आश्रम की छात्रा को दस्त होने लगा तो आश्रम अधी​क्षिका उसको लेकर अस्पताल पहुंची, जहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया. वहां इलाज के दौरान छात्रा की मौत हो गई है. पीएम के बाद शव को परिजनों को सौंपा गया. सुबह कन्या आश्रम कोर्रा की छात्रा छोटी मरकामी उम्र 8 साल को दस्त लगना शुरू हुआ था. जिसके बाद आश्रम अधीक्षिका राजम्मा साहू उसे लेकर गादीरास अस्पताल पहुंची जहां पर उपचार किया गया लेकिन स्थिति गंभीर होती देख डाक्टरों ने बेहतर इलाज के लिए जिला अस्पताल रेफर कर दिया. उसे तत्काल जिला अस्पताल लाया गया, लेकिन उसकी जान नहीं बच सकी.
इधर जानकारी मिलते ही शिक्षा विभाग के अधिकारी व सहायक आयुक्त पीएम रामटेके मौके पर पहुंच गए. डॉ. सीवी प्रसाद बनसोड़ ने बताया कि ज्यादा दस्त होने के कारण डिहाईड्रेशन हो गया था. जिसके कारण छात्रा की मौत हो गई है. उसके बाद पीएम कर शव को परिजनों को सौपा गया. कक्षा दूसरी की छात्रा छोटी मरकामी नीलावरम निवासी देवा की पुत्री है. वही इस मामले को गंभीरता से लेते हुए जिला प्रशासन ने अधीक्षिका को निलबित कर दिया.