Thursday , 19 September 2019
छत्तीसगढ़: मवेशियों की पहचान के लिए लगाया जाएगा आईडी नंबर

छत्तीसगढ़: मवेशियों की पहचान के लिए लगाया जाएगा आईडी नंबर

रायपुर.सड़क पर घूमते बेसहारा मवेशी रायपुर नगर निगम के लिए बड़ी मुसीबत बन चुके हैं. जब इनसे पशुपालकों को कोई फायदा नहीं मिलता तब वे इन्हे ऐसे ही बेसहारा छोड़ देते हैं. इसके बाद ये मवेशी सड़कों पर ही डेरा जमा लेते है. जिसके चलते आए दिन हादसे हो रहे है, जिसमें कई लोग अपनी जान गंवा चुके है. इस परेशानी को दूर करने नगर निगम ने एक नया प्लान तैयार किया है. अब इन मवेशियों के कान में पहचान के लिए आईडी नंबर लगाया जाएगा. राजधानी रायपुर की सड़कों पर घूमने वाले मवेशियों को भी अब यूनिक आईडी नंबर मिलने वाली है. जल्द ये सुविधा शुरु करने की बात नगर निगम कर रहा है.
निगम प्रशासन ने ऐसे मवेशियों पर नजर रखने के लिए उनके कान में टैग लगाने का फैसला लिया है, जिसमें मवेशियों का आईडी नंबर होगा और मालिक का नाम और पता भी दर्ज रहेगा. टैग के बिल्ले में मवेशी के साथ ही उसके मालिक की भी जानकारी रहेगी, जिससे की निगम प्रशासन मवेशियों के मालिकों के खिलाफ आसानी से कार्रवाई कर सकेंगे.
निगम प्रशासन ने पशु पालकों की मौजूदगी में फैसला लिया है कि अगर सड़कों पर मवेशी घूमते पाए गए तो पांच सौ रूपये फाइन मारने की कार्रवाई की जाएगी. इस मसले पर महापौर प्रमोद दुबे का कहना है कि मवेशी मालिकों को समझाइश दी गई है और उनसे सुझाव भी लिया गया है. मवेशियों की जीयो टैगिंग की जाएगी, इससे उनकी पहचान आसान होगी.