Friday , 10 April 2020

जल्द 45 हजार रुपए का लैवल पार करेगा सोना

नई दिल्ली.अगर सोने की खरीदारी करनी है तो देर मत कीजिए. पहले ही 10 ग्राम सोने के भाव 44,000 रुपए के पार पहुंच चुके हैं और इसके 45,000 के पार जाने की पूरी आशंका है. कोरोना वायरस का असर अब पूरे तौर पर गोल्ड मार्कीट पर नजर आ रहा है. इंटरनैशनल मार्कीट में दाम में तेजी आने से दिल्ली में गोल्ड का दाम सोमवार को 620 रुपए चढ़कर 44,640 रुपए पर पहुंच गया. एक्सपर्ट्स के अनुसार गोल्ड का अगला पड़ाव 45,000 रुपए प्रति 10 ग्राम का है. अभी जो परिस्थितियां बन रही हैं, उनमें अगर गोल्ड 45,000 के लैवल को पार कर नया रिकॉर्ड बना दे तो कोई बड़ी बात नहीं होगी.
पी.पी. ज्यूलर्स के वाइस चेयरमैन पवन गुप्ता का कहना है कि जो हालात हैं, उनमें कोई हैरान करने वाली बात नहीं होगी कि गोल्ड 45,000 के लैवल पर जाने के बाद कुछ दिनों में इस लैवल को तोड़ भी दे. इंटरनैशनल मार्कीट में गोल्ड 1,680 डालर प्रति औंस (32 ग्राम) पर पहुंच गया. इसके 1,700 डॉलर प्रति औंस तक पहुंचने की बातें कही जा रही हैं. अंदाजा लगाइए अगर गोल्ड के दाम 1700 डॉलर प्रति औंस बढ़ेंगे फिर उसी अनुपात में भारतीय मार्कीट में गोल्ड के दाम का बढऩा तय है. गोल्ड के दाम 7 साल के सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गए हैं. सोने का इतना ऊंचा लैवल आखिरी बार जनवरी 2013 में देखा गया था. इसके उलट कोरोना शेयर बाजार और कच्चा तेल बाजार पर नैगेटिव असर डाल रहा है. सोमवार को घरेलू शेयर बाजार में 2 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई और कच्चा तेल भी 4 प्रतिशत से ज्यादा गिर चुका है.
भारतीय बाजार में सोमवार को सोने का भाव पहली बार 44 हजार (प्रति 10 ग्राम) के पार पहुंच गया. विशेषज्ञों का कहना है कि अक्षय तृतीया तक सोना 50 हजारी हो सकता है. एंजेल ब्रोकिंग के डिप्टी वाइस प्रैसीडैंट (कमोडिटी एवं करंसी) अनुज गुप्ता ने बताया कि कोरोना वायरस संकट गहराने से शेयर बाजार में गिरावट का दौर जारी रह सकता है. इससे निवेशक सोने में निवेश बढ़ाएंगे. इसके चलते सोने में नया-नया रिकॉर्ड बनेगा. पिछले साल सोने ने 25 प्रतिशत का रिटर्न दिया था.
साल 2020 के सिर्फ 2 महीने में ही सोने के भाव में करीब 3000 रुपए की तेजी आ चुकी है. इस तरह सिर्फ 60 दिन में निवेशकों को करीब 11 प्रतिशत रिटर्न मिल चुका है. अगर पूरे साल की बात करें तो सोना 30 से 40 प्रतिशत का रिटर्न दे सकता है. हालांकि विशेषज्ञों का यह भी कहना है कि इस तेजी के बावजूद छोटे निवेशकों को सोने में निवेश सावधानी पूर्वक करना चाहिए. सोने के दाम में पिछले दिनों भारी तेजी के कारण सरकार ने सोने का आयात शुल्क मूल्य (टैरिफ वैल्यू) 31 डॉलर प्रति 10 ग्राम बढ़ा दिया है. केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड ने 14 फरवरी को सोने का आयात शुल्क मूल्य 507 डॉलर प्रति 10 ग्राम और चांदी का 569 डॉलर प्रति किलोग्राम तय किया था. आज सोने का आयात शुल्क मूल्य बढ़ाकर 538 डॉलर प्रति 10 ग्राम कर दिया गया.