Thursday , 27 February 2020
जोमैटो ने उबर का भारतीय बिजनेस खरीदा, बदले में उबर को 9.99% शेयर देगी

जोमैटो ने उबर का भारतीय बिजनेस खरीदा, बदले में उबर को 9.99% शेयर देगी

मुंबई:जोमैटो ने फूड डिलीवरी में उबर के भारतीय कारोबार उबर ईट्स को खरीद लिया है. इस स्टॉक डील के तहत उबर को जोमैटो के 9.99% शेयर मिलेंगे. जोमैटो के वैल्यूएशन के हिसाब से इतने शेयरों की कीमत करीब 2,500 करोड़ रुपए होने का अनुमान है. उबर ईट्स अपने ऐप पर रेस्टोरेंट पार्टनर, डिलीवरी पार्टनर और ग्राहकों को जोमैटो के प्लेटफॉर्म पर शिफ्ट कर देगी. कंपनी ने मंगलवार को यह जानकारी दी. उबर ने घाटे की वजह से फूड डिलीवरी बिजनेस बेचने का फैसला किया.

उबर के प्लेटफॉर्म पर 26000 रेस्टोरेंट लिस्टेड, अब जोमैटो पर शिफ्ट होंगे

जोमैटो और स्विगी से कॉम्पिटीशन की वजह से उबर ईट्स को नुकसान हो रहा था. कंपनी ने पिछले 5 महीने में 2,197 करोड़ रुपए का घाटा होने की जानकारी दी थी. उबर ने भारत में 2017 में फूड डिलीवरी बिजनेस शुरू किया था. इसके प्लेटफॉर्म पर 41 शहरों के 26,000 रेस्टोरेंट लिस्टेड हैं. दूसरी ओर जोमैटो के रेस्टोरेंट डिस्कवरी और फूड डिलीवरी प्लेटफॉर्म पर 24 देशों के 15 लाख रेस्टोरेंट के बारे में जानकारी उपलब्ध है. कंपनी हर महीने करीब 7 करोड़ यूजर को सर्विस देती है.

जोमैटा का वैल्यूएशन 21300 करोड़ रुपए से ज्यादा होने का अनुमान

जोमैटो ने कुछ दिन पहले ही अपने मौजूदा निवेशक आंट फाइनेंशियल से 15 करोड़ डॉलर (1065 करोड़ रुपए) का नया निवेश जुटाया था. आंट फाइनेंशियल ने जोमैटो का वैल्यूएशन 300 करोड़ डॉलर (21,300 करोड़ रुपए) मानते हुए यह निवेश किया था. जोमैटो के सीईओ दीपिंदर गोयल का कहना है कि देश के 500 से ज्यादा शहरों में फूड डिलीवरी बिजनेस में अग्रणी होने पर हमें गर्व है. उबर ईट्स को खरीदने से हमारी स्थिति और मजबूत होगी. दूसरी ओर उबर के सीईओ दारा खोसरोशाही का कहना है कि भारत एक अहम बाजार है, यहां राइड बिजनेस में ग्रोथ को देखते हुए निवेश जारी रखेंगे. हम जोमैटो के पूंजी प्रभावी तरीके से आगे बढ़ने की योग्यता से प्रभावित हैं.