Friday , 21 February 2020
दिल्ली के कनॉट प्लेस में ऑफिस लेना देश में सबसे महंगा

दिल्ली के कनॉट प्लेस में ऑफिस लेना देश में सबसे महंगा

नई दिल्ली.दिल्ली का ‘दिल’ कहे जाने वाला कनॉट प्लेस एशिया पैसिफिक रीजन का सातवां सबसे महंगा वर्क प्लेस बनकर उभरा है. कनॉट प्लेस दिल्ली का सबसे बड़ा व्यावसायिक केंद्र भी है. दिन हो या रात, यहां हमेशा भीड़ लगी होती है. इसलिए हर कोई यहां बिजनस करना चाहता है. ग्लोबल प्रॉपर्टी कंसल्टेंट नाइट फ्रैंक की रिपोर्ट के मुताबिक, कनॉट प्लेस और मुंबई का बांद्रा कुर्ला कॉम्प्लेक्स (BKC) एशिया पैसिफिक रीजन में 20 सबसे तेज बढ़ने वाले प्राइम ऑफिस लोकेशन हैं. इस लिस्ट में कनॉट प्लेस सातवें नंबर पर और बीकेसी 11 वें स्थान पर है. बेंगलुरु के सेंट्रल बिजनस डिस्ट्रिक्ट (CBD) ने एशिया पैसिफिक रीजन में सबसे तेज ऑफिस रेंटल ग्रोथ दर्ज की है. जुलाई-सितंबर 2019 के दौरान वहां रेंटल सालभर पहले की इसी अवधि के मुकाबले 17.6 फीसदी बढ़ा.
नाइट फ्रैंक के एशिया पैसिफिक ऑफिस रेंटल इंडेक्स Q3 2019 के अनुसार, कनॉट प्लेस में रेंटल 4.4 फीसदी बढ़ा है. वहीं मुंबई के BKC में इसमें दो फीसदी बढ़ोतरी दर्ज की गई है. नाइट फ्रैंक इंडिया के चेयरमैन और मैनेजिंग एडिटर शिशिर बैजल ने कहा, ‘भारत में ऑफिस मार्केट की अच्छी ग्रोथ हो रही है. इसका पता प्राइम ऑफिस मार्केट्स में रेंटल वैल्यू में ग्रोथ से चल रहा है. खासतौर से बेंगलुरु में लीजिंग एक्टिविटीज में लगातार ग्रोथ दिखी है. ऐसा उसके CBD में नई दिल्ली और मुंबई के मुकाबले कॉम्पिटिटिव प्राइसिंग के कारण हुआ है.’ उन्होंने कहा कि बेंगलुरु CBD में डिमांड लगातार बनी हुई है, जिससे रेंटल वैल्यू में तेजी आई.
नाइट फ्रैंक इंडेक्स एशिया पैसिफिक रीजन के 20 मुख्य शहरों में ऑफिस रेंटल को ट्रैक करता है. जुलाई-सितंबर के दौरान यह साल दर साल आधार पर 0.1 फीसदी बढ़कर 157.3 पर पहुंच गया. रिपोर्ट के अनुसार, 206.6 डॉलर प्रति वर्ग मीटर की मंथली रेंटल वैल्यू के साथ हॉन्ग कॉन्ग एशिया पैसिफिक रीजन में सबसे महंगा ऑफिस मार्केट रहा. इसके बाद टोक्यो (110.9 डॉलर प्रति वर्ग मीटर) और सिंगापुर (80.5 डॉलर प्रति वर्ग मीटर) रहे. NCR और मुंबई के CBD एशिया पैसिफिक में पांचवें और सातवें सबसे महंगे ऑफिस मार्केट रहे.