Friday , 13 December 2019
नवांशहर-सुल्तानपुर लोधी 3 से 16 तक चलेगी विशेष ट्रेन

नवांशहर-सुल्तानपुर लोधी 3 से 16 तक चलेगी विशेष ट्रेन

नवांशहर.श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व पर श्री करतारपुर साहिब के दर्शन दीदार करने जाने वाली संगत के लिए रेल मंत्रालय की ओर से नवांशहर से सुल्तानपुर लोधी तक 3 से 16 नवम्बर तक विशेष ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है. भारत सरकार के इस निर्णय का जागो नवांशहर जागो सोसायटी के प्रधान निर्मल सिंह रीहल ने स्वागत करते हुए बताया कि उन्हें प्राप्त पत्र के आधार पर ज्ञात हुआ है कि 3 से 16 नवम्बर तक पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा श्री करतारपुर साहिब के दर्शनों के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं को ले जाने हेतु शुरू हुई ट्रेन नवांशहर से सुबह 7.30 बजे चलकर सुल्तानपुर लोधी 10.30 बजे के करीब पहुंचेगी जबकि वहां से शाम 4.30 बजे चलकर नवांशहर 7.30 बजे पहुंचेगी. ट्रेन में एक तरफ का किराया मात्र 25 रुपए है. उन्होंने बताया कि सुल्तानपुर लोधी से गुरुद्वारा साहिब तक संगत को पहुंचाने के लिए नि:शुल्क बस सर्विस उपलब्ध रहेगी.
निर्मल सिंह रीहल ने रेल विभाग से मांग की कि सुल्तानपुर लोधी को जाने वाली ट्रेन का खटकड़कलां में भी स्टॉपेज रखा जाए ताकि इन क्षेत्रों से जाने वाली संगत को भी इस ट्रेन का लाभ मिल सके. वर्णनीय है कि उक्त संस्था पिछले कई वर्षों से नवांशहर से श्री अमृतसर के लिए ट्रेन चलाने की मांग करती आ रही थी जिनके संघर्ष और पूर्व सांसद प्रो. प्रेम सिंह चंदूमाजरा के प्रयासों से कुछ महीनों तक नवांशहर से अमृतसर तक ट्रेन को चलाया गया लेकिन पिछले लोकसभा चुनाव से पहले ही इसे बंद कर दिया गया. निर्मल सिंह रीहल ने केन्द्र सरकार और रेलवे मंत्रालय से मांग की कि नवांशहर से अमृतसर के लिए बंद की गई ट्रेन को पुन: शुरू किया जाए.
श्री गुरु नानक देव जी के 550 वर्षीय प्रकाश दिवस को लेकर माता गुजरी वैल्फेयर सोसायटी श्री आनंदपुर साहिब द्वारा सुल्तानपुर लोधी की पवित्र धरती पर गुरुद्वारा संत घाट के निकट 15 नवम्बर तक गांव बेबे नानकी का अत्याधुनिक सुविधाओं वाला अस्थाई रिहायशी नगर स्थापित किया गया है. सभा के प्रधान जत्थेदार सुरेन्द्र सिंह मटौर ने बताया कि अस्थाई नगर के निर्माण के लिए शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी और प्रशासन की तरफ से स्वीकृति प्रदान की जा चुकी है. साथ ही सभा द्वारा 7000 व्यक्तियों की रोजाना रिहायश के लिए अत्याधुनिक सुविधा वाले अस्थाई टैंट वाले कमरों का निर्माण कर दिया गया है जिसमें डिस्पैंसरी, एंबुलैंस, गठड़ी घर, फ्लश, बिजली, सुरक्षा और पानी के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं. वहीं संगत के आराम हेतु बढिय़ा किस्म के बिस्तर तैयार करवाए गए हैं. उन्होंने बताया कि रिहायश की रजिस्ट्रेशन का कार्य शुरू हो चुका है जिसके लिए संगत में भारी उत्साह है. इससे पहले प्रिंसीपल डा. जसवीर सिंह द्वारा सामग्री युक्त वाहनों को रवाना भी किया गया. इस मौके पर बलवीर सिंह भीरी, राम आसरा सिंह, देव सिंह, इंद्र सिंह दबूड़, किशोर सिंह बंगड़, कुलदीप सिंह मठाड़ू, हरजिन्द्र सिंह आदि मौजूद थे.