Thursday , 13 May 2021
पैसा डकारने के मामले में संजीवनी क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी (Sanjivani Credit Cooperative Society) का डायरेक्टर पुन: रिमांड पर

पैसा डकारने के मामले में संजीवनी क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी (Sanjivani Credit Cooperative Society) का डायरेक्टर पुन: रिमांड पर

 

उदयपुर (Udaipur). संजीवनी के्रडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी (Sanjivani Credit Cooperative Society) में लोक-लुभावने झांसे देकर शहरवासियों से लाखों रूपयों का निवेश करा कर राशि करीब साढ़े 8 करोड़ रूपये रियल एस्टेट व फाईनेंस कम्पनी में निवेश कर दिए.

मामले की जांच कर रहे हिरणमगरी थाने के एएसआई हमेरलाल ने बताया कि संजीवनी के्रडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी (Sanjivani Credit Cooperative Society) हिरणमगरी के निदेशक हेरिटेज रातानाडा जोधपुर (Jodhpur) निवासी विक्रम सिंह पुत्र छग्गू सिंह इंद्रोही को गत दिनों गिरफ्तार किया जो रिमांड पर चल रहा था. रिमांड के दौरान आरोपी से गहनता से पूछताछ की जा रही है. आरोपी विक्रम सिंह ने पूछताछ के दौरान बताया कि शहरवासियों को लोक लुभावनी स्कीम में निवेश कराने का झांसा देकर साढ़े 8 करोड़ रूपये से अधिक की राशि सोसायटी मेें निवेश कराई और निवेश कराई गई राशि में से साढ़े 8 करोड़ रूपये जोधपुर (Jodhpur) में सोसायटी के खाते से निकाल लिए.

आरोपी द्वारा उदयपुर (Udaipur), जयपुर, जोधपुर (Jodhpur) , में जमीनें खरीद कर फ्लेट बनाए गए और जनता की गाढ़ी कमाई की राशि का दुरूपयोग किया. आज रिमांड अवधि समाप्त होने पर आरोपी को पुन: अदालत में पेश किया जहां उसे 22 अप्रेल तक पुलिस (Police) रिमांड पर रखने के आदेश दिए. रिमांड अवधि के दौरान अब तक आरोपी की निशानदेही से उपकरण, सीपीयू, मॉनिटर, प्रिंटर मशीन, रूपये गिनने की मशीन, पासबुक, फार्म प्रिंट करने की मशीन, खाली फॉर्म, पासबुकें जब्त की गई. रिमांड अवधि के दौरान आरोपी ने जहां-जहां निवेश किए इस बारे में विस्तार से जांच-पड़ताल की जाएगी साथ ही निवेशकों की पासबुक, खातों की नकल, एफडी लेकर उनकी भी जांच-पड़ताल की जाएगी.