Wednesday , 3 June 2020

प्रधान की हत्या के बाद पसरा सन्नाटा,इंसाफ़ के इंतज़ार में परिवारीजन

अयोध्या .हैरिंगटनगंज ब्लॉक के पलिया प्रतापशाह गाँव में प्रधान जय प्रकाश सिंह की हत्या के बाद पसरा सन्नाटा,बाज़ार व घर पर पीएसी का कैम्प,इंसाफ़ के इंतज़ार में परिवारीजन,
आज मौक़ा मिला प्रतापशाह गाँव जाने का जहां प्रतिष्ठित प्रधान जय प्रकाश सिंह की हत्या हुई प्रतिद्वंदी राम पदारथ यादव द्वारा,हृदय विदारक दृश्य रहा,गाँव में पुलिस व पीएसी के जवान मुस्तैद दिखे,सन्नाटा पसरा है समूचे गाँव में,बस हत्या में आरोपी राम पदारथ के पुत्र व ४ अन्य की गिरफ़्तारी अभी तक न होने की चर्चा कुछ के मुँह से साफ़ सुनाई दी.दोष किसका है इस पर भी चर्चा ज़ोरों पर थी,लोगों का कहना है चौकी इंचार्ज राजेश यादव के तबादले का प्रार्थनापत्र महीनों पहले दिया गया पर तबादला नही हुआ,जिनपर आरोप है वो हत्या करने वाले राम पदारथ यादव की कारगुजरियों के समर्थक थे,लोक प्रिय प्रधान जय प्रकाश की हत्या के बाद दोषियों की गिरफ़्तारी न होने से आमजनों में भारी आक्रोश दिखा,मृतक प्रधान के पुत्र सुशील सिंह ने बताया पाँच लोगों के ख़िलाफ़ हत्या का मुक़दमा दर्ज कराया गया है,जिसमें राम पदारथ के पुत्र अंकित का भी नाम है.मामला सत्ता पक्ष के क्षेत्र के प्रतिष्ठित प्रधान की हत्या से जुड़े होने के कारण प्रधान पुत्र ने न्यायपूर्ण कार्यवाई पर भरोसा जताया है,और प्रशासन से माँग की उनके पक्ष के लोगों को आरोपियों द्वारा फ़र्ज़ी फँसाया गया,और हिस्ट्रीशीटर मृतक राम पदारथ के पुत्र अंकित सहित अन्य के गिरफ़्तारी की शीघ्र माँग प्रशासन से किया है.