Monday , 25 June 2018

फेसबुक के जरिये महिलाओं से ठगी करने वाला नाइजीरियाई गिरोह गिरफ्तार

रायपुर. रायपुर पुलिस ने महिलाओं को फेसबुक के जरिये प्रेमजाल में फंसाकर उनसे रुपये ऐंठने वाले एक विदेशी गिरोह का पदार्फाश किया है. नाइजीरिया से संचालित यह गिरोह भारतीय महिलाओं को निशाना बनाता था. इस मामले में पांच आरोपियों को दिल्ली के तिलक नगर से गिरफ्तार किया गया है. रायपुर के पुलिस अधीक्षक अमरेश मिश्रा ने बुधवार रात पुलिस नियंत्रण कक्ष में मामले का खुलासा किया.

मिश्रा ने बताया, “यह गिरोह ब्रिटेन के एक व्यक्ति के नाम पर फर्जी फेसबुक आईडी बनाकर पहले महिलाओं को झांसा देता था, फिर व्हाट्स एप और फेसबुक से चैट कर विश्वास जीतने के बाद उनका मोबाइल नंबर हासिल करता था. महिलाओं से मोबाइल नंबर लेने के बाद लगातार उनसे संपर्क में रहते हुए उनकी फोटो और वीडियो भी मंगा लेता था. इसके बाद ब्लैकमेल कर उनसे पैसे की मांग करता था.

उन्होंने कहा, यह गिरोह पैसे नहीं देने पर वीडियो और फोटो सोशल मीडिया में वायरल करने की धमकी देता था. गिरोह के सदस्यों ने रायपुर की एक महिला से धीरे-धीरे 7 लाख रुपये अलग-अलग खातों में मंगा लिए.

एसपी ने कहा कि महिलाओं के उत्पीड़न के तरीके को देखते हुए पुलिस को नाइजीरियाई गिरोह पर शक हुआ. पुलिस जब मामले की तह तक पहुंची, तब पता चला कि यह गिरोह दिल्ली में रहता है.

उन्होंने बताया कि रायपुर पुलिस 10 दिनों तक दिल्ली में कैम्प कर चार नाइजीरियाई नागरिकों को हिरासत में लिया. पूछताछ में आरोपियों ने अपना गुनाह स्वीकार कर लिया. आरोपियों को मंगलवार को दिल्ली से गिरफ्तार कर बुधवार को रायपुर लाया गया.

रायपुर पुलिस ने दिल्ली के तिलक नगर इलाके के संतगढ़ स्थित उनके फ्लैट में छापामार कार्रवाई करते हुए 10 लैपटॉप, 20 मोबाइल फोन, 3 पासपोर्ट, वाईफाई डिवाइस, कई फर्जी सिमकार्ड और 20 हजार 700 रुपये नकद बरामद किए.

मिश्रा ने बताया कि यह गिरोह अब तक कई महिलाओं को ठगकर करोड़ों रुपये जुटा चुका है. मास्टरमाइंड कैथिन उसिटा के अलावा चिबुजोर शैमुएल, ऑसिटन उर्फ एंटी, बुवोफेल और बोली बेसिल को गिरफ्तार किया गया है.

एसपी ने बताया कि सभी आरोपियों को गुरुवार को अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें रायपुर जेल भेज दिया गया.

The post फेसबुक के जरिये महिलाओं से ठगी करने वाला नाइजीरियाई गिरोह गिरफ्तार appeared first on Udaipur Kiran

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*