Saturday , 27 November 2021
बेटे ने अपनी मां को पत्थर से कूचकर उतारा मौत के घाट

बेटे ने अपनी मां को पत्थर से कूचकर उतारा मौत के घाट

काठीकुंड.कहते है कि मां भगवान का दूसरा रुप होती है. जिस बच्चे के पास मां होती है वह सबसे खुशनसीब इंसान होता है. दुमका जिले से ऐसी घटना सामने आई है जिसमें एक कलयुगी बेटे ने अपनी मां को हमेशा के लिए मौत की नींद सुला दिया. छोटी सी बात पर कहा सुनी होने पर शमीम ने अपनी मां को पत्थर से कूचकर मार डाला. बता दें कि यह घटना शनिवार को काठीकुंड थाना क्षेत्र के आमझरी व और मंगलपुर गांव के बीच स्थित फुटबॉल मैदान के पास हुई है. आरोपी शमीम अंसारी अलुबेड़ा गांव का रहने वाला है. वह किसी काम से अपनी मां के साथ आमझारी गांव जा रहा था. रास्ते में किसी बात को लेकर उसके और उसकी मां के बीच झगड़ा शुरु हो गया. जिस पर शमीम ने गुस्से में आ कर अपनी मां को जान सा मार डाला. इस घटना को देखकर आसपास के लोगों ने पुलिस को सूचित किया. पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव को हिरासत में लिया और पोस्टमार्टम के लिए भेजा. ग्रामीणों ने बताया कि शमीम को कुछ बुरी आदतें थी. जिसके चलते उसका घरवालों के साथ हर दिन झगड़ा हुआ करता था. पर आज शमीम ने हद पार कर दी. पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है. आरोपी के घरवालों ने और गांव के लोगों ने पुलिस से शमीम को कड़ी से कड़ी सजा देने की अपील की है.