Sunday , 23 February 2020
बॉलीवुड में महादेवा धाम छाया, यहां हर कलाकार की आने की इच्छा है

बॉलीवुड में महादेवा धाम छाया, यहां हर कलाकार की आने की इच्छा है

रामनगर बाराबंकी. कॉमेडी के जरिए फिल्मों में अपना जलवा बिखेरने वाले कॉमेडियन सुनील पाल को बचपन में फिल्मी देखने का बहुत शौक था. उन्हें नहीं पता था कि यही शौक उनका कैरियर बन जाएगा.उन्होंने बताया वह ज्यादातर फिल्म देखते और कलाकारों की नकल करते थे. स्कूलों में पढ़ाई में मन नही लगता था. लेकिन उन्हें दूसरों को हंसाने में बड़ा मजा आता था. उन्होंने 1993 में नागपुर ओपी सिंह आर्केस्ट्रा में अपनी मंचीय प्रस्तुति दी. इसके बाद उन्हें  डीडी वन पर आ रहे सीरियल धमाल नंबर वन में एक्टिंग करने का मौका मिल गया.वही से उनके कॉमेडी कैरियर की शुरुआत हो गई. एक्टिंग से लोगों के दिलों दिमाग पर अपना प्रभाव जमाने वाले सुनील पाल ने लाफ्टर चैलेंज कॉमेडी सर्कस कपिल शर्मा शो ज़ी टीवी अंताक्षरी सारेगामापा आदि ऐसे कई टीवी शो की गई कॉमेडी ने उन्हें लोकप्रिय बना दिया. हाल ही में दूरदर्शन पर नव वर्ष के उपलक्ष में अपनी कॉमेडी से लोगों को हंसाया इनको ज्यादातर मशहूर नेताओं की नकल पर कॉमेडी करना उनकी आवाज निकालना तथा उनके रहन-सहन पर हास्य कटाक्ष करना काफी पसंद है.यह कहते हैं कि आज के युग में हंसना हंसाना दोनों मुश्किल काम है. लेकिन परमात्मा का आशीर्वाद है.उनकी एक्टिंग से लोग हंसते हैं. वह कहते हैं कि महादेवा धाम बॉलीवुड में इन दिनों छाया हुआ है.वहां का हर कलाकार इस महोत्सव का हिस्सा बनना चाहता है.अब तक 2000 कार्यक्रम देश-विदेश में पेश कर चुके. सुनील पाल बताते हैं कि 1995 में मुंबई में हुए आए और महेंद्र कपूर से लेकर सोनू निगम शाहरुख खान गोविंदा सलमान सहित कई मशहूर कलाकारों के साथ उन्होंने काम किया 2005 में लाफ्टर चैलेंज से उनकी पहचान हुई और बांबे टू गोवा पहली फिल्म रही. जिसमें उन्होंने एक्टिंग की आने वाली फिल्मों में सुपर जासूस फैमिली 420 में भी उनकी एक्टिंग देखने को मिलेगी सुनील पाल मूल रूप से ग्राम मुसी जिला चंद्रपुर महाराष्ट्र के रहने वाले हैं.