Monday , 26 August 2019

भारत और रुस के बीच साइन हुए 7 एमओयू: योगी

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रुस से लौटने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस कर व्यापारिक समझौतों की जानकारी दी. उन्होंने बताया कि भारत और रुस के बीच 7 एमओयू साइन हुए हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि पीयूष गोयल ने प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया. वहां के व्यापारियों से सकारात्मक बातचीत हुई है. दुनिया में सबसे तेजी से उभरती हुई अर्थव्यवस्था भारत की है. भारत दुनिया का सबसे बड़ा खाघान्न उत्पादक है. यहां पर मैनपावर का बेहतर उपयोग हो सकता है. भारत और रुस के संबंधों में नई ऊंचाई आई है. उन्होंने बताया कि रुस के साथ एग्रीकल्चर और फूड प्रोसेसिंग के क्षेत्र में समझौते हुए हैं. एक दूसरे संसाधनों का बेहतर उपयोग करके सफल हो सकते हैं. सितंबर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रूस यात्रा से भारत और रूस के संबंध नई ऊंचाइयों को प्राप्त करेंगे. रूस दौरे से लौटे सीएम योगी ने बुधवार को प्रेस वार्ता कर वहां से अपने व्यापारिक रिश्ते व अन्य बिंदुओं का उल्लेख किया. उन्होंने कहा कि रूस से कृषि क्षेत्र में समझौता हुआ है, इसी के साथ फूड प्रोसेंसिग के क्षेत्र में भी रुस से समझौता हुआ है. सीएम योगी ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए रुस में बड़ा सम्मान है और सितंबर को पीएम मोदी को उन्होंने आमंत्रित किया है. अगले महीने पीएम मोदी वहां जा रहे हैं. यह भारत के लिए बड़े गर्व की बात है. इसी के साथ उन्होंने बताया कि रूस से 7 एमओयू साइन हुए हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि रूस में 5 मिलियन हेक्टेयर एरिया कृषि योग्य है, लेकिन लोगों की कमी के कारण उसका उपयोग नहीं होता. भारत और रूस मिलकर के वहां के संसाधनों का उपयोग कर सकते हैं. भारत और रूस के समझौते और मजबूत होंगे. देश के किसानों को फायदा होगा. उन्होंने कहा कि रुस में व्यापक रोजगार की संभावनाएं हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि रूस के 35 प्रतिशत पूर्वी क्षेत्र में है, जहां रूस की 5 फीसदी आबादी रहती है. फिर भी निवेश के लिहाज से हम सारी संभावनाओं को तलाशने गए थे. भारत से मुझे, गोवा, हरियाणा के मुख्यमंत्रियों को मिलाकर चार मुख्यमंत्री रुस गए थे. हमारे साथ 190 लोगों का प्रतिनिधिमंडल शामिल था. रूस के 200 उद्यमियों ने भी चर्चा की. उन्होंने कहा कि दुनिया की सबसे तेजी से उभरती हुई अर्थव्यवस्था भारत की है. भारत सबसे ज्यादा खाद्यान्न पैदा करता है. योगी ने आगे बताया कि रुस से 7 एमओयू साइन हुए हैं. कॉन्ट्रेक्ट फार्मिंग और फूड प्रोसेसिंग की सहमति बनी है. रूस के उद्यमी डिफेंस के निर्माण की भी सहमति बनी है. सीएम ने कहा कि उनके पास जमीन है और हमारे पास मैनपॉवर है. इसके मेल से काम किया जाएगा. खाद प्रसंस्करण, टिम्बर, ऊर्जा, ऑयल और कौशल विकास जैसे क्षेत्रों में भी आपार संभावनाएं हैं. भारत और रूस के बीच रिश्ते बेहतर हैं. अंत में सीएम योगी ने सभी को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं दी.