Sunday , 28 November 2021
मोदी सरकार LIC का पैसा लगाकर लोगों के भरोसे को चकनाचूर कर रही: प्रियंका

मोदी सरकार LIC का पैसा लगाकर लोगों के भरोसे को चकनाचूर कर रही: प्रियंका

नई दिल्ही.कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने शुक्रवार को एक मीडिया रिपोर्ट का हवाला देते हुए दावा किया कि नरेंद्र मोदी सरकार भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) का पैसा घाटे वाली कंपनियों में लगाकर देश के आम लोगों के भरोसे को चकनाचूर कर रही है. उन्होंने ट्वीट कर कहा, भारत में एलआईसी भरोसे का दूसरा नाम है. आम लोग अपनी मेहनत की कमाई भविष्य की सुरक्षा के लिए एलआईसी में लगाते हैं, लेकिन भाजपा सरकार उनके भरोसे को चकनाचूर करते हुए एलआईसी का पैसा घाटे वाली कम्पनियों में लगा रही है. ये कैसी नीति है जो केवल नुकसान नीति बन गई है?
प्रियंका ने जिस मीडिया रिपोर्ट का हवाला दिया उसके मुताबिक शेयर बाजार में बिकवाली का असर कई कंपनियों पर भी पड़ रहा है और बीते ढाई महीने में एलआईसी को शेयर बाजार में निवेश से करीब 57,000 करोड़ रुपये की चपत लग चुकी है. दरअसल, एलआईसी ने जिन कंपनियों में निवेश किया था, उन कंपनियों की बाजार पूंजी में काफी गिरावट दर्ज की गई है. वैसे यह पहली बार नहीं है जब प्रियंका ने किसी रिपोर्ट के हवाले से सरकार पर निशाना साधा है. इससे पहले भी कई मौकों पर वह सरकार को आड़े हाथ लेती रही हैं. गुरुवार को उन्होंने एक रिपोर्ट के हवाला देते हुए ट्वीट किया, भारतीय लोग अपना पैसा देश में रखना नहीं चाहते, व्यवसायों में निवेश नहीं करना चाहते.
बाहर से निवेश आ नहीं रहा. भाजपा सरकार की ये कौन सी आर्थिक नीतियां हैं जिस पर से सबका भरोसा उठ चुका है? गांधी ने जिस मीडिया रिपोर्ट का हवाला दिया था उसके अनुसार इस साल जुलाई के महीने में भारतीयों ने उदारीकृत प्रेषण योजना(लिबरलाइज्ड रेमिटेंस स्कीम एलआरएस) के तहत 1.69 बिलियन डॉलर रुपये विदेश भेजे हैं. यह विदेश भेजे जाने वाली अब तक की सबसे ज्यादा राशि है. आरबीआई द्वारा प्रदान की गई इस सुविधा के तहत विदेशों में पढ़ाई करने वाले भारतीयों, ईलाज, रिश्तेदारों, आप्रवासियों को पैसे भेजे जा सकते हैं.