Monday , 16 September 2019
यौन शोषण के आरोपों पर चिन्मयानंद से 7 घंटे पूछताछ, एसआईटी ने आश्रम सीज किया

यौन शोषण के आरोपों पर चिन्मयानंद से 7 घंटे पूछताछ, एसआईटी ने आश्रम सीज किया

शाहजहांपुर: पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद से करीब 7 घंटे पूछताछ के बाद एसआईटी ने शुक्रवार को उनका दिव्य आश्रम सीज कर दिया. इसके अलावा एसआईटी टीम जांच के लिए पीड़ित छात्रा को लेकर चिन्मयानंद के आवास पर भी पहुंची. चिन्मयानंद पर उनके एसएस लॉ कॉलेज की छात्रा ने यौन शोषण का आरोप लगाया है. प्रबंधन ने तीन दिन के लिए कॉलेज की छुट्टी घोषित की है.
सूत्रों के मुताबिक, चिन्मयानंद के अलावा एसआईटी ने गुरुवार रात यूपी पुलिस से भी यौन शोषण केस से जुड़े सवाल पूछे. हालांकि, छात्रा के आरोपों पर चिन्मयानंद के खिलाफ दुष्कर्म के मामले में कोई एफआईआर दर्ज नहीं हुई है.
चिन्मयानंद के वकील का कहना है कि हम पूरी तरह से जांच में सहयोग कर रहे हैं और दोबारा पूछताछ के लिए आना पड़ सकता है. चिन्मयानंद गुरुवार रात 1 बजे तक एसआईटी के पूछताछ रूम में मौजूद थे. उनसे छात्रा और उसके परिवार के आरोपों से जुड़ी जानकारी ली गई. इससे पहले एसआईटी ने बुधवार को पीड़िता की मेडिकल जांच कराई थी.
चिन्मयानंद को एसआईटी पर पूरा भरोसा 
इससे पहले चिन्मयानंद ने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर गठित एसआईटी पूरे मामले की निष्पक्ष जांच कर रही है और उन्हें उस पर पूरा भरोसा है. उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ साजिश हो रही है और एसआईटी की जांच के बाद सब कुछ स्पष्ट हो जाएगा.
पीड़ित छात्रा ने लगाए थे आरोप
स्वामी सुखदेवानंद विधि महाविद्यालय में एलएलएम करने वाली छात्रा ने 24 अगस्त को एक वीडियो पोस्ट किया था. इसमें उसने कहा था कि एक संन्यासी ने कई लड़कियों की जिंदगी बर्बाद कर दी है और उसे और उसके परिवार को इस संन्यासी से जान का खतरा है. उसके बाद लड़की के पिता ने चिन्मयानंद के खिलाफ दुष्कर्म और शारीरिक शोषण की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए तहरीर दी थी, लेकिन पुलिस ने केस दर्ज नहीं किया.