Monday , 27 January 2020
राजन शुक्ला ने सदर तहसील के ग्राम मुड़ाडीह में चौपाल लगायी

राजन शुक्ला ने सदर तहसील के ग्राम मुड़ाडीह में चौपाल लगायी

देवरिया. जनपद के नोडल अधिकारी एवं प्रमुख सचिव नागरिक सुरक्षा एवं राजनैतिक पेंशन राजन शुक्ला ने सदर तहसील के ग्राम मुड़ाडीह में चौपाल लगायी. विकास एवं जन कल्याणकारी योजनाओं का सत्यापन जनमानस से पुछ कर किया. उनके समस्याओं को सुना तथा जनकल्याकारी योजनाओ के तहत अवशेष पात्रजनो को आच्छादित का निर्देश दिया साथ ही इस गांव के ग्राम पंचायत सचिव ओम प्रकाश गुप्ता का कार्य क्षेत्र बदलने तथा सहायक कार्यक्रम अधिकारी गजेंद्र सिंह को चेतावनी निर्गत करने  के निर्देश के साथ ही रोजगार सेवक व तकनीकी सहायक के कार्यों पर भी नाराजगी व्यक्त की|          प्रमुख सचिव श्री शुक्ला ने  इस गांव में विद्युत कनेक्शन से अवशेष लोगो को कनेक्शन दिए जाने तथा अन्य योजनाओं में पात्रों का आवेदन प्राप्त कर उन्हें भी आच्छादित करने का निर्देश दिया| सत्यापन के दौरान कुछ हैंडपंपों के खराब होने की बात लाई गई, जिसकी जानकारी ग्राम पंचायत सेक्रेटरी द्वारा बताया गया कि मुझे  नहीं है इस पर नाराजगी व्यक्त की तथा उनके कार्यों पर असंतोष जताते हुए उन्हें यहां से हटाने का निर्देश जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी को दिया|  उन्होंने एक कार्य परियोजना का स्थलीय निरीक्षण किया, जिसकी लंबाई चौड़ाई एपीओ द्वारा नहीं बताए जाने पर भी आक्रोश व्यक्त किया तथा उन्हें चेतावनी निर्गत करने का भी निर्देश मुख्य विकास अधिकारी को दिया| उन्होंने शौचालयों का निर्माण कराए जाने तथा उसका उपयोग भी किए जाने का निर्देश देते हुए कहा कि इससे गांव में स्वच्छता आएगी,जिससे बीमारियों से निजात मिलेगी| इसलिए शौचालय का अवश्य ही प्रयोग करें|       उन्होंने आयुष्मान भारत योजना के तहत 160  गोल्डन कार्ड जनरेट होना  बताए जाने पर उसे तत्कालिक रूप में बटवाये जाने का भी निर्देश मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिया| चौपाल के दौरान ही एक फरियादी द्वारा बताया गया कि मेरी पत्नी श्रीकांती मानसिक रूप से अस्वस्थ है, इस पर उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को इलाज की सुविधाएं उपलब्ध कराए जाने को कहा| विद्युत आपूर्ति के क्रम में लोगों द्वारा ट्रांसफार्मर क्षमता बढ़ाए जाने की बात की गई इस गांव में कुल 5 ट्रांसफार्मर लगे हैं|  एक ट्रांसफार्मर और लगाए जाने का प्रस्ताव गांव द्वारा किया गया है, जिसे विद्युत विभाग द्वारा प्रस्तावित कर दिया गया है |    प्रमुख सचिव ने कहा कि गांव में विकास कार्यो का स्थलीय सत्यापन जानने तथा उनके समस्याओं को दूर करने के लिए इस तरह का चौपाल कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है, जिससे विकास योजनाओं की वास्तविक स्थिति पता चले तथा आने वाली कमियों को दूर किया जा सके, इसके अलावा जो विकास कार्यों में जिस अधिकारी व कर्मचारी द्वारा बाधा उत्पन्न की  की जाए, उसके खिलाफ कार्रवाई भी कराई जा सके| उन्होंने लोगों से विकास योजनाओं व जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी रखने के साथ ही  उससे लाभान्वित होने की अपेक्षा की|  साथ ही अधिकारियों को जरूरतमंद लोगों तक योजनाओं का लाभ पहुंचाने की हिदायतें चौपाल के दौरान दिया|     जिलाधिकारी अमित किशोर ने योजनाओं को सतही रूप में लोगों तक पहुंचाए जाने का निर्देश अधिकारियों को देते हुए प्रमुख सचिव को आश्वस्त किया कि दिए गए निर्देशों का पालन सुनिश्चित कराया जाएगा|     चौपाल के दौरान मुख्य विकास अधिकारी शिवशरण जी0एन0, सीएमओ डॉ0 डी0वी0 शाही, डीडीओ श्री कृष्ण पांडे,डी0सी0 मनरेगा गजेंद्र तिवारी, डीएसओ विनय कुमार सिंह, समाज कल्याण अधिकारी रामपाल यादव,डीपीआरओ आनंद प्रकाश,  उपायुक्त एन आर एल एम विजय चौधरी, अधिशासी अभियंता विधुत ए0के0 सिंह, अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी अशोक कुमार, उप जिलाधिकारी दिनेश कुमार मिश्रा, क्षेत्राधिकारी निष्ठा उपाध्याय सहित अन्य विभागों के जनपदों स्तरीय अधिकारी गण,  खंड विकास अधिकारी व अन्य संबंधित ग्राम प्रधान आदि उपस्थित रहे|