Sunday , 28 November 2021
सत्रहवां राष्ट्रीय पुस्तक मेला मोतीमहल लान में 20 से

सत्रहवां राष्ट्रीय पुस्तक मेला मोतीमहल लान में 20 से

लखनऊ. राणाप्रताप मार्ग मोतीमहल वाटिका लान लखनऊ में वर्ष 2003 से निरंतर होता आ रहा 10 दिवसीय सत्रहवां राष्ट्रीय पुस्तक मेला 20 से 29 सितम्बर तक चलेगा. दि फेडरेशन आॅफ पब्लिशर्स एण्ड बुकसेलर्स एसोसिएशन्स इन इण्डिया, नई दिल्ली के सहयोग से के.टी.फाउण्डेशन व फोर्सवन द्वारा संयोजित महात्मा गांधी की 150वीं जयंती की थीम पर आधारित यह आयोजन बच्चो-बड़ों सभी को समर्पित होगा. उद्घाटन के लिये मुख्यअतिथि के तौर पर राज्यपाल आनन्दीबेन पटेल को आमंत्रित किया गया है. निःशुल्क प्रवेश वाले मेले में पुस्तक प्रेमियों को हमेशा की तरह किताबों पर न्यूनतम 10 फीसदी की छूट मिलेगी.
साहित्यिक-सांस्कृतिक नगरी का बहुप्रतीक्षित वार्षिक उत्सव बन चुके इस सत्रहवें राष्ट्रीय पुस्तक मेले के बारे में आयोजक फाउण्डेशन के संयोजक मण्डल मनोज सिंह चंदेल व आकर्षण जैन ने पत्रकार वार्ता में बताया कि वर्चुअल वल्र्ड की ओर बढ़ती दुनिया में किताबों का महत्व पहले से बढ़ा ही है. मनुष्य की सबसे अच्छी मित्र कहलाने वाली किताबें एक लम्बे अरसे से व्यक्ति और समाज के निर्माण में अहम भूमिका निभाती आ रही हैं. मेले में खिलाड़ियों व खेलों को प्रोत्साहन देने वाले उ.प्र. ओलम्पिक संध के महासचिव आनन्देश्वर पाण्डेय को 28 सितम्बर को प्रदेश गौरव सम्मान से नवाजा जायेगा. गुजरात को अतिथि राज्य का दर्जा देते हुए गुजरात पर्यटन व वहां के प्रकाशकों के स्टाल मेले में विशिष्ट होंगे. प्रधानमंत्री पर आधारित अपूर्व शाह की आदमकद किताब ‘नरेन्द्र मोदीः एक सकारात्मक सोच’ खास आकर्षण होगी. गरबा लोकनृत्य कार्यशाला व गुजराती भाषा सिखाने के विशिष्ट कार्यक्रम भी होंगे. मेले में पहली बार आई-क्यू, एसिलाॅर व आॅप्टीप्रेन्योर के सौजन्य से पुस्तक प्रेमियों के लिये परामर्श व सर्वेक्षण के संग आई चेकअप कैम्प दसों दिन चलेगा.