Wednesday , 8 April 2020

सरकार के राहत पैकेज का व्यापार संघ ने किया स्वागत

नई दिल्ली. कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट ) ने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमन द्वारा आज देश के गरीब और निचले तबके के एवं संगठित क्षेत्र के श्रमिकों की तत्काल आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए दिए गए सामाजिक सुरक्षा पैकेज का स्वागत करते हुए कहा की वर्तमान विकत परिस्थितियों में जहाँ इस वर्ग को राहत की सबसे बड़ी जरूरत थी ऐसे में सरकार ने राहत देकर इस वर्ग को सम्मानपूर्वक जीवन जीने का भरपूर प्रयास किया है.

इस समय सामाजिक कल्याण पैकेज की बहुत आवश्यकता थी क्योंकि देश में सब कुछ बंद होने के कारण गरीब तबका तालाबंदी की अवधि के लिए चिंतित था. यह संतोष की बात है कि सरकार चरणबद्ध और प्राथमिकता के आधार पर काम कर रही है जो संकट की इस घड़ी में सही दृष्टिकोण है. कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने आज की गई घोषणाओं का स्वागत करते हुए आशा व्यक्त की कि जल्द ही स्व-संगठित क्षेत्र जिसमें व्यापारियों, ट्रांसपोर्टरों, छोटे उद्योगों और स्वरोजगार करने वाले लोग शामिल हैं और राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं को भी शीघ्र इसी प्रकार का पैकेज दिए जाने की घोषणा की आशा जताई है.

भरतिया और खंडेलवाल ने कहा कि कोरोना से देश को बचाने के लिए सरकार चरणबध्द तरीके से काम कर रही है जिसमें पहले देशव्यापी लॉक डाउन उसके बाद व्यापार एवं उद्योग के लिए सभी वैधानिक और कर अनुपालन को स्थगित कर दिया गया और आज 1.70 लाख करोड़ का एक बड़ा पैकेज सरकार द्वारा दिया गया . गरीब और जरूरतमंद और दैनिक मजदूर जो इस समय में सबसे अधिक प्रभावित हैं की चिंता सरकार ने की है. उन्होंने यह भी कहा कि यह प्रत्यक्ष लाभ पैकेज इस धन को खुदरा बाजारों में लाया जाएगा.

क्योंकि लोग इस अतिरिक्त डिस्पोजेबल आय का उपयोग अधिक उत्पाद खरीदने के लिए करेंगे जिससे रिटेल बाजार में नकद तरलता आएगी ! उन्होंने उम्मीद जताई कि अगले चरण में सरकार अब छोटे व्यापारियों और मध्यम वर्ग के मुद्दों पर ध्यान देगी क्योंकि वे भी इस स्थिति में काफी पीड़ित हैं.