Tuesday , 2 June 2020

हरियाणा से आये युवक की तेज बुखार से हुई मौत के बाद रिपोर्ट आई निगेटिव

लखनऊ.राजधानी के काकोरी विकास खण्ड के अंतर्गत मंगलवार रात एक गांव में हरियाणा से आये प्रवासी श्रमिक की तेज बुखार आने से मौत हो गई थी.जिसके बाद ग्रामीणों से लेकर स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया था.ग्रामीणों ने युवक की कोरोना संक्रमण से मौत होने की आंशका जताई थी.जिस पर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने शव के सैम्पल लेकर जांच के लिए भेजा था.जिसकी रिपोर्ट शुक्रवार को निगेटिव आने के बाद लोगों ने राहत की सांस ली.   काकोरी की ग्राम पंचायत भलिया के मजरा सेमरामऊ गांव निवासी सूरज रावत उम्र 20 वर्ष अपने साथियों के साथ हरियाणा के विवानी में रह कर मजदूरी करता था.शुक्रवार 15 मई को वह अपने भाई दीपू,व गांव के ही आजाद के साथ हरियाणा से पैदल अपने गांव पहुंचा था.जिस पर ग्राम प्रधान आनन्द कुमार ने प्राथमिक विद्यालय सेमरामऊ में तीनों युवकों को 14 दिन के लिए क्वरन्टाइन कर दिया गया.रविवार को तीनों युवकों की सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र काकोरी पर मेडिकल जांच हुई.जिसमें सब कुछ नार्मल निकला.डॉक्टरों ने स्कूल में ही क्वरन्टाइन करने की सलाह दी.सोमवार को सूरज को बुखार की शिकायत हुई.लेकिन दोबारा मंगलवार की शाम को सूरज को तेज बुखार की शिकायत हुई.जिसके बाद वह सीएचसी गया.जहां उसे तेज बुखार होने की वजह से डॉक्टरों ने केजीएमयू रिफर कर दिया था.जहाँ पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था.सुबह युवक की मौत को लेकर गांव में हड़कंप मच गया.गांव वाले तरह-तरह की बाते करने लगे.इसी बीच ग्रामीणों की सूचना पर काकोरी पुलिस मौके पर पहुंच कर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा.वहीं उच्चाधिकारियों के निर्देश पर सीएचसी अधीक्षक काकोरी डॉ उमाशंकर लाल के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पुलिस के सहयोग से काकोरी की एक आम की बाग में एक दम सूनसान इलाके में पहुंच कर शव का सैम्पल लेकर जांच के लिए भेजा था.जिसकी गुरुवार को जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ग्रामीणों ने राहत की सांस ली.जब तक सूरज की जांच रिपोर्ट नही आई थी.तब तक सेमरामऊ गांव के लोग एक दूसरे से यही पूछते नजर आ रहे थे कि भय्या जांच में क्या निकला.सभी दहसत में नजर आ रहे थे.लेकिन जब जांच रिपोर्ट सही आने की सूचना गांव पहुंची तो ग्रामीणों के चेहरे खिल उठे.जांच रिपोर्ट निगेटिव आने की खबर की पुष्टि स्वास्थ्य विभाग ने की.