Monday , 26 August 2019

हिंदुस्तान में रहना है तो तिरंगे और राष्ट्रगान से मोहब्बत करनी होगी: वसीम रिजवी

लखनऊ. शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने कहा कि हिंदुस्तान के कट्टरपंथी मुसलमानों को अब तय करना होगा कि उनको हिंदुस्तान के तिरंगे से मोहब्बत करके उसको बुलंद करना है या फिर इस्लामिक झंडा बता कर हरे रंग के चांद तारे वाले झंडे को जो कि पाकिस्तानी झंडे का रूप है उससे मोहब्बत करके अपने घरों पर लगाना है.
ऐसे लोग जो हरे झंडे पर बने चांद तारे वाले झंडे को इस्लामिक झंडा बता करके मकबरे, मदरसों और अपने घरों पर लगाते हैं और जुलूसो में लेकर चलते हैं. वह लोग देश के गद्दार तो हो सकते हैं, लेकिन हिंदुस्तानी मुसलमान नहीं हो सकते. हिंदुस्तान में रहना है तो तिरंगे और राष्ट्रगान से मोहब्बत करनी होगी. इस संबंध में हमने एक सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर रखी है कि हिंदुस्तान में चांद तारे वाला झंडा नहीं फहरा सकता और इस पर जल्द फैसला होने वाला है.