Thursday , 9 April 2020

195 देश और 23,588 मौतें: ब्रिटेन में एक दिन में 115 ने जान गंवाई

रोम: दुनिया के 195 देश कोरोनावायरस की चपेट में आ चुके हैं. 23,588 लोगों की मौत हो चुकी है. 5 लाख 19 हजार 599 संक्रमित हैं. 1 लाख 23 हजार 296 मरीज ठीक भी हुए. इटली के करीब 6 करोड़ लोग घरों में बंद हैं. मॉस्को में किराने की दुकान और फार्मेसी के अलावा अन्य दुकानों को बंद कर दिया गया है. स्पेन में मौतों का आंकड़ा 4000 के पार हो गया है. वेटिकन सिटी में पोप फ्रांसिस का एक स्टाफर संक्रमित पाया गया है. न्यूयॉर्क में 40 हजार रिटायर्ड हेल्थ वर्कर्स को तैनात किया गया है.

ब्रिटेन: ब्रिटेन की नेशनल पब्लिक हेल्थ एजेंसी के मुताबिक, बुधवार से गुरुवार रात के बीच देश में संक्रमण से 115 लोगों की मौत हो गई. ब्रिटेन में अब तक 578 संक्रमित जान गंवा चुके हैं. यहां गुरुवार रात तक कुल 11,658 मामले सामने आए. शुक्रवार को ब्रिटेन की बोरिस जॉनसन सरकार कुछ सख्त कदमों का ऐलान कर सकती है.

न्यूयॉर्क : 40 हजार रिटायर्ड हेल्थ वर्कर तैनात
न्यूयॉर्क के गवर्नर एंड्रू कुमो ने गुरुवार को बताया कि शहर में संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए 40 हजार रिटायर्ड मेडिकल वर्कर्स की सेवाएं ली जा रही हैं. अमेरिकी नौसेना के दो मेडिकल शिप शुक्रवार को न्यूयॉर्क पहुंच रहे हैं. अब ये भी हेल्ड डिपार्टमेंट की मदद करेंगे. इन दोनों शिप्स को दुनिया के सबसे आधुनिक अस्पताल कहा जाता है. लेकिन, अब तक इनका इस्तेमाल सिर्फ अमेरिकी नेवी करती आई है.

चेतावनी : 18 महीने तक रह सकता है असर
हॉर्वर्ड यूनिवर्सिटी के डॉक्टर आशीष झा ने कोरोनावायरस पर सख्त चेतावनी दी. आशीष इस यूनिवर्सिटी में ग्लोबल हेल्थ डिपार्टमेंट के डायरेक्टर हैं. गुरुवार रात फेसबुक सेशन में उन्होंने कहा, “जब तक हमें कोरोना के लिए एक कारगर वैक्सीन नहीं मिल जाता, तब तक हम ये नहीं मान सकते कि हमने इस बीमारी पर जीत हासिल कर ली है. यानी ये लड़ाई फिलहाल, तो जारी रहेगी.” इसके पहले डब्लूएचओ के डायरेक्टर जनरल टेड्रोस एडहानॉम ने भी कहा था कि कोरोना का असर 12 से 18 महीने रह सकता है. अमेरिका का हेल्थ डिपार्टमेंट इस महामारी से निपटने के लिए 100 पेज के एक एक्शन प्लान पर काम कर रहा है. वैक्सीन की पहली स्टेज का परीक्षण भी किया जा चुका है. अगले हफ्ते इसका रिजल्ट सार्वजनिक किया जा सकता है.

वेटिकन सिटी : पोप का करीबी संक्रमित
पोप फ्रांसिस के साथ रहने वाले इटली के एक कर्मचारी को संक्रमित पाया गया है. गुरुवार को मीडिया रिपोर्ट्स में यह जानकारी दी गई. यह कर्मचारी अस्पताल में भर्ती है. इस कर्मचारी का नाम सार्वजनिक नहीं किया गया है. इटली के दो बड़े अखबारों के मुताबिक, पोप फ्रांसिस को पिछले महीने सर्दी हुई थी. इसके बाद से वो अकेले अपने कमरे में लंच करते हैं. वो इस वक्त सोशल डिस्टैंसिंग का ध्यान रख रहे हैं. वेटिकन सिटी के प्रवक्ता मेटो ब्रूनी ने न्यूज एजेंसी से कहा- मैं पोप के साथ रहने वाले कर्मचारी के बारे में फिलहाल कोई टिप्पणी नहीं करूंगा. हालांकि, वेटिकन की वेबसाइट ने माना है कि शहर में चार लोग संक्रमित हैं.

ईरान : संक्रमण काबू में नहीं

ईरान के स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को बताया कि पिछले 24 घंटे में देश में 157 लोगों की मौत हो गई है. इसके साथ मौत का आंकड़ा 2,234 हो गया है. वहीं, संक्रमण का आंकड़ा 29,406 हो गया है. जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के मुताबिक, ईरान दुनिया में छठा देश है, जो सबसे ज्यादा प्रभावित है.

फ्रांस : सैनिकों की वापसी होगी

फ्रांस इराक में तैनात अपने सभी सैनिकों को वापस बुलाएगा. आर्म्ड फोर्सेस मिनिस्ट्री ने बुधवार को कहा कि कोरोनावायरस के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए यह फैसला लिया गया है. उन्होंने कहा कि वह दाएश (इस्लामिक स्टेट ऑफ इराक) के खिलाफ हवाई अभियान जारी रखेगी. यहां 1331 लोगों की जान जा चुकी है. देश में अब तक 25 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं.

ब्रिटिश राजनयिक की हंगरी में मौत

उधर, हंगरी में एक सीनियर ब्रिटिश राजनयिक स्टीवन डिक की कोरोनोवायरस से मौत हो गई. वे 37 साल के थे. वे बुडापेस्ट में ब्रिटिश दूतावास के मिशन के उप प्रमुख थे. उनकी मंगलवार को मौत हो गई थी. यहां अब तक 465 लोगों की मौत हुई है, जबकि 9640 लोग संक्रमित हैं.

चीन ने मेडिकल सप्लाई के लिए पाकिस्तान से बॉर्डर खोलने को कहा

चीन ने पाकिस्तान से दवाओं की सप्लाई के लिए शुक्रवार को बॉर्डर खोलने के लिए कहा. पाकिस्तान में गुरुवार रात तक संक्रमितों की संख्या 1190 हो गई. 9 लोगों की मौत हो चुकी है. डॉन न्यूज के मुताबिक, खंजरब मार्ग आमतौर पर 1 अप्रैल को खोला जाता है. लेकिन वैश्विक महामारी के कारण पाकिस्तान और चीन के बीच सीमा को अनिश्चित काल के लिए बंद कर दिया गया था.

अमेरिका में बुधवार को 223 से ज्यादा लोगों की मौत

सीएनएन के मुताबिक, अमेरिका में बुधवार को 223 से ज्यादा लोगों की मौत हुई है. यह देश में एक दिन का सबसे बड़ा आंकड़ा है. मंगलवार को यहां 164 लोगों की जान गई थी. जनवरी में यहां पहला मामला सामने आया था, तब से अब तक 1032 लोगों की मौत हो चुकी है. चार दिन पहले रविवार की सुबह तक देशभर में कुल 326 मौतें हुईं थीं. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बुधवार को कहा कि हम सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर और सख्त कदम उठाएंगे. अमेरिका में 66,048 लोग संक्रमित हैं.

जापान में कोरोना से निपटने के लिए टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कोरोनोवायरस महामारी से निपटने के लिए टास्क फोर्स गठित करने का आदेश दिया है. देश में संक्रमण का आंकड़ा 1307 हो गया है, जबकि 45 लोगों की मौत हो गई है. जापान कैबिनेट के मुख्य सचिव योशीहिदे सुगा ने गुरुवार को कहा कि टास्क फोर्स का गठन करने के लिए आपातकाल की स्थिति घोषित करने की जरूरत है. बुधवार को सबसे ज्यादा 98 नए मामले सामने आए.