Friday , 22 March 2019
लॉन्च हुआ ऐसा MOBILE APP ऐप कि अब घर बैठे कमा सकेंगे पैसे

लॉन्च हुआ ऐसा MOBILE APP ऐप कि अब घर बैठे कमा सकेंगे पैसे

Mr. Rajeev Kapur, MD, Steelbird Group

नई दिल्ली, 13 मार्च. स्टीलबर्ड ग्रुप, हेलमेट्स, रिटेल, ऑटो एसेसरीज और एंटरटेनमेंट जैसे अलग-अलग सेक्टर्स में सफलता हासिल करने के बाद अब टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में प्रवेश करने जा रहा है.
स्टीलबर्ड ने बुधवार को अपने यूनिक मोबाइल एप्लिकेशन ‘स्टीलबर्ड कनेक्ट शेयर एंड अर्न’ को लॉन्च किया.

इसके साथ ही स्टीलबर्ड नेटवर्किंग, सोशलाइजिंग को एक-दूसरे के साथ बेहतर ढंग से साथ लाने का प्रयास कर रहा है. ये एप्लिेशन एक क्किल के साथ शेयर कर कमाई का मौका देगा और ये एक नया और बेहतरीन बिजनेस मॉडल साबित होगा.

नई सोशल नेटवर्किंग एप्लिकेशन मौजूदा ऐप्स जैसे कि फेसबुक, ट्विटर से अलग है और इंटरनेट सर्फिंग के साथ-साथ आपके लिए घर बैठे ब्राउज करते हुए कमाने के लिए एक क्विक रूट प्रदान करता है. इस एप्लिकेशन की सबसे बड़ी खासियत है कि यह हर किसी के लिए लाभदायक है, चाहे वह पोस्ट करने वाला है या फिर उस पोस्ट को शेयर करने वाला.

पोस्ट करने वाले का कंटेंट कुछ ही पल में वायरल हो जाता है, जबकि पोस्ट शेयर करने वाले को अच्छी खासी आमदनी ‘स्टीलबर्ड कनेक्ट शेयर एंड अर्न’ से हो जाती है. एंड्रॉयड और आईओएस दोनों पर एप्लिकेशन को उपयोग में लाया जा सकता है. ये ऐप सोशल नेटवर्किंग क्षेत्र में एक चेंजमेकर साबित होगी.

इस नई सोशल नेटवर्किंग एप्लिकेशन की एक झलक दिखाते हुए स्टीलबर्ड के ग्रुप के प्रबंध निदेशक राजीव कपूर ने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों में मुकाम हासिल करने के बाद टेक्नोलॉजी एक ऐसा सेक्टर है, जिस पर स्टीलबर्ड की काफी समय से नजऱ थी और इस मोबाइल ऍप के लांच के साथ हमारा सपना साकार हुआ है.

सोशल मीडिया प्लेटफार्म के साथ शुरूआत करते हुए स्टीलबर्ड यूजर्स के लिए एक ऐसा ऐप लाया है जो कि यूनिक, उपयोग में आसान और मोबाइल संचालित है. यह प्लेटफार्म मूल रूप से कंटेंट को वायरल बनाने के लिए एक क्विक मोड प्रदान करेगा.

इस डेवलपमेंट के पीछे मुख्य उद्देश्य टेक्नोलॉजी और इंटरनेट का उपयोग व्यापार को गति देने और अंतिम उपयोगकर्ताओं को रिवार्ड देने के लिए है जो अभी तक किसी भी सोशल प्लेटफार्म पर नहीं है.

एक बहुत ही सरल और आसान यूजर इंटरफेस के साथ विकसित किया गया स्टीलबर्ड कनेक्ट-शेयर एंड अर्न यूजर्स के एकाउंट में प्रत्येक शेयर पर एसबी कोइन्स जमा करता है जिसे एप्लिकेशन में शॉपिंग मॉल के माध्यम से या www.yooshopper.com पर आसानी से रिडीम किया जा सकता है और कोई भी यूजर्स कितनी भी खरीदारी कर सकता है.

वर्तमान में डिजिटल एडवरटाइजिंग भारत में सबसे तेजी से बढ़ता हुआ एडवरटाइजिंग माध्यम है और यही उम्मीद की जा रही है कि यह रूझान भविष्य में भी जारी रहेगा और सोशल मीडिया सबसे मजबूत डिजिटल विज्ञापन प्लेटफार्मों में से एक के रूप में उभर कर आएगा. विज्ञापन कैटेगरी के एक बड़े हिस्से यानि करीब 80 फीसदी पर इस समय अकेले गूगल और फेसबुक का ही एकाधिकार है.

भारत में सोशल मीडिया की बढ़ती लोकप्रियता को देखते हुए और लगातार बढ़ते क्रेज पर विस्तार से बात करते हुए कपूर ने कहा कि वर्तमान में भारतीय कंपनियां अपने उत्पादों के विपणन के लिए डिजिटल विज्ञापन पर 108 बिलियन रुपए खर्च करती हैं और ये आंकड़ा 32 प्रतिशत वार्षिक की दर से बढऩे की उम्मीद है जो कि भारत में विज्ञापन उद्योग की संपूर्ण विकास दर 11 प्रतिशत के मुकाबले काफी अधिक है.

वर्तमान में डिजिटल मीडिया कुल भारतीय विज्ञापन उद्योग का लगभग 15 प्रतिशत हिस्सा रखता है और 2020 तक इसके लगभग 24 प्रतिशत तक पहुंचने की उम्मीद है जो आश्चर्यजनक है.’’
स्मार्टफोन की कीमतों में लगातार कमी और सस्ते डेटा ने इस सेक्टर को काफी अधिक प्रोत्साहन दिया है. स्टीलबर्ड ने अनुमान लगाया है कि इसका नया टेक्नोलॉजी आधारित वर्टीकल अगले कुछ महीनों में न्यूनतम 1 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी हासिल कर लेगा और प्रति वर्ष बिजनेस ट्रांजेक्शन 1000 मिलियन रुपए से अधिक हो जाएगा.’’

कपूर ने कहा कि ‘‘स्टीलबर्ड कनेक्ट एप्लिकेशन पहले ही 200,000 डाउनलोड को पार कर चुका है और अगले 1-2 महीने के भीतर हमें 10 गुना वृद्धि यानी 2 मिलियन डाउनलोड की उम्मीद है. इसका सबसे प्रमुख कारण है कि इस एप्लीकेशन के साथ प्रत्येक भारतीय एसबी कोइन्स कमा सकता है जिनको रिडीम किया जा सकता है.

स्टीलबर्ड कनेक्ट शेयर एंड अर्न शॉपिंग मॉल में खरीदारी करके आप इन एसबी कोइन्स को भुना सकते हैं. स्टीलबर्ड कनेक्ट शॉपिंग मॉल में हमारे पास 10,000 से अधिक उत्पाद होंगे ताकि यूजर सिर्फ स्पांसर्ड पोस्ट्स को शेयर कर अपने रोजमर्रा के उपयोग की वस्तुओं को खरीद सके.’’

यह एप्लिकेशन सभी ब्रांडों, बहु-राष्ट्रीय कंपनियों, व्लॉगर्स, सोशल मीडिया हस्तियों, गायकों और कलाकारों को एक क्विक एवं इंस्टेंट वायरल रोडमैप प्रदान करेगा. उन्हें बस प्रोमोशनल वीडियो, फोटोग्राफ या स्टीलबर्ड कनेक्ट शेयर एंड अर्न पर कोई क्रिएटिव पोस्ट करने की आवश्यकता है,
इसके साथ वे एक बिड एप्लाई करेंगे और बस इतना ही करना है और प्रमोशन शुरू हो जाएगी. एप्लिकेशन प्रति शेयर की बोली मूल्य का चयन करने के लिए एक स्वतंत्रता प्रदान करता है जो कि इस माध्यम का एक और यूएसपी है.

अधिक बिड लगाने पर पोस्ट स्क्रीन पर टॉप पर दिखेगी और उसके तेजी से शेयर होने की संभावना भी उतना ही बढ़ जाएगी. इस प्लेटफॉर्म के माध्यम से ब्रांड अपने प्रशंसकों और व्यूअरशिप को बहुत कम कीमत पर बढ़ा सकते हैं क्योंकि प्रायोजित पोस्ट को लाखों यूजर्स द्वारा शेयर किया जाएगा क्योंकि वे इन पोस्टों को साझा करके एसबी कोइन्स को कमाने के लिए प्रेरित होंगे.

यदि फेसबुक पर एक व्यक्ति के 5,000 से अधिक प्रशंसक और शेयर एंड अर्न पर 5000 से अधिक फॉलोअर हैं तो वे सिर्फ 1 रुपए के बिड मूल्य के साथ एक ऐसी पोस्ट शेयर कर उसे 10,000 लोगों तक पहुंचा देंगे और इस प्रोमोशन की लागत प्रति व्यक्ति सिर्फ 0.0001 पैसे होगी.
स्टीलबर्ड ने दिल्ली और चंडीगढ़ में एक इन-हाउस डेवलपमेंट टीम स्थापित की है जो इस वर्टिकल को अगले स्तर तक ले जाने का दायित्व उठा रही हैं.


http://udaipurkiran.in/hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*