Friday , 22 March 2019
विजय माल्या की कंपनी को हाईकोर्ट से राहत नही

विजय माल्या की कंपनी को हाईकोर्ट से राहत नही

लखनऊ.भगोड़े कारोबारी विजय माल्या की कंपनी यूनाइटेड बेवरेजेज पर लगे धोखाधड़ी के आरोपों पर कोर्ट ने कोई भी राहत देने से इंकार कर दिया है.हालांकि, जस्टिस रेखा दीक्षित की कोर्ट ने चार्जषीट रद्द करने की्र याचिका पर अगली सुनवाई के लिए 15 मार्च की तारीख नियत की है.वहीं, एएजी विनोद शाही ने बताया कि सरकारी राजस्व को चूना लगाने वाली कंपनी को राहत देने का उन्होंने विरोध किया था. हाईकोर्ट ने घोटालेबाज कंपनी को कोई राहत नहीं दी.भगोड़े षराब कारोबारी विजय माल्या की कंपनी यूनाइटेड ब्रेवरेजेज के खिलाफ दाखिल आरोपपत्र खारिज करने के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ में अपील की गई है. इस मामले में गुरुवार को सुनवाई होनी है.
ज्ञात हो कि लखनऊ में शराब के बड़े स्टॉकिस्ट अषोक जायसवाल के ग्रुप ने यूनाइटेड ब्रेवरेजेज के स्टेट हेड अखिल शारदा, प्रबंध निदेषक षिखर राममूर्ति, क्षेत्रीय प्रबंधक अरविंद पांडेय के अलावा हिमांषु तिवारी पर धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया था. कंपनी को जायसवाल ग्रुप को कई ट्रक बीयर की सप्लाई देनी थी. इसके लिए ग्रुप ने कंपनी को करीब 92 लाख रुपये का भुगतान किया था, पर उन्हें माल सप्लाई नहीं किया गया.
इस बाबत पूछने पर टाल-मटोल किया जाता रहा और फिर कहा गया कि जिन ट्रकों पर माल भेजा गया वे माल सहित चोरी कर लिए गए. आरोपियों ने लखनऊ पुलिस में इन ट्रकों के चोरी जाने संबंधी एफआईआर भी दर्ज कराई. पुलिस की जांच में ट्रक चोरी जाने का मामला फर्जी पाया गया. जिन ट्रकों के चोरी जाने की बात कही गई थी, उनके मालिकों ने बताया कि उनके ट्रक इस ब्रेवरेजेज कंपनी में कभी किराए पर गए ही नहीं. जायसवाल ग्रुप की ओर से दर्ज एफआईआर की जांच में आरोपों को सही पाने के बाद पुलिस ने चार्जषीट दाखिल कर दी. जानकारों का कहना है कि आरोपपत्र में माल्या की कंपनी पर बिल्टी इष्यू करने के बाद भी कर न जमा करने और सरकार को राजस्व हानि पहुंचाने की बात भी कही गई है. अपर महाधिवक्ता विनोद कुमार शाही को सरकार की तरफ से पैरवी करने के लिए नामित किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*