Wednesday , 19 June 2019

इश्क को KALANK से काजल बना पाए करण ?

kalank

मल्टीस्टारर फिल्म कलंक बॉक्स ऑफिस पर रिलीज हो गई है. करण जौहर की फिल्म कंलक एक पीरियड ड्रामा है. फिल्म में मल्टीस्टारर कास्ट है. आलीशान सेट है और ढेर सारे गाने है. लेकिन फिल्म दर्शकों की उम्मीद पर खरी उतर पाई है. चलिए आपको बताते है कैसी फिल्म कलंक

 कलंक मूवी रिव्यू

कहानी

फिल्म कलंक की कहानी आजादी से पहले लौहार के पास स्थित हुसैनाबाद की है. जहां बड़ी संख्या में मुस्लिम लाहौर रहते है. बलराज चौधरी का परिवार यहां का सबसे अमीर परिवार है. बलराज और उसका बेटा देव चौधरी शहर में अखबार चलाते हैं. देव की पत्नी का नाम सत्या है लेकिन उनकी कोई औलाद नहीं है. इसलिए मजबूरन देव को रुप से दूसरी शादी करनी पड़ती है. रुप जो एक ऐसी शादी का बोझ उठा रही है जिसमें प्यार है ही नहीं वो अपनी जिंदगी में खुशियां ढूढने के लिए बहार बेगम से संगीत सीखना शुरु करती है. जहां उसकी मुलाकात जफर से होती है. धीरे-धीरे उनकी मुलाकात प्यार में बदल जाती है और यहां से सबकी जिदंगी में बदलाव आने शुरु हो जाते हैं.

एक्टिंग और डायरेक्शन

फिल्म में एक्टर्स ने कमाल की एक्टिंग की है लेकिन डायरेक्शन में कमियां नजर आती है. फिल्म को दिलचस्प बनाने के चक्कर में डायरेक्टर ने फिल्म को कुछ ज्यादा ही लंबा बना दिया. हालांकि एक्टर्स ने अपनी एक्टिंग से डायरेक्शन की कमियों को छिपाया है.

फिल्म में क्या है खास

फिल्म में बेहतरीन स्टारकास्ट है जिन्हें आप इन कैरेक्टर्स में पसंद करेंगे. इसके अलावा एक सिंपल स्टोरी के जरिए समाज के उन मुद्दों पर कटास करने की कोशिश की है जिन्हें आमतौर पर समाज की मर्यादा के खिलाफ समझा जाता है.

फिल्म देंखें या ना देंखें

अगर आपको पीरियड फिल्मों का शौक है तो ये फिल्म आपके लिए है लेकिन अगर आप फिल्म में कुछ अलग देखने की ख्वाहिश रखते है तो फिल्म आपको बोर कर सकती है.



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*