Wednesday , 19 June 2019

विवाहोपरान्त ससुराल जा रही वधु का रास्‍ते से अपहरण

सीकर, 17 अप्रेल (उदयपुर किरण). मुख्यमंत्री गहलोत सहित राजस्थान सरकार की एक तिहाई केबिनेट के जन सुरक्षा के दावे सीकर में कोई मायने नहीं रखते. बापर्दा बनी सीकर पुलिस के कारण बेखौफ होकर अपराधी संगीन वारदातों को अंजाम दे रहे हैं. बुधवार तड़के सात फेरे लेकर अपने जीवनसाथी के साथ ससुराल जा रही दुल्हन के बीच राह हुए अपहरण से पूरा समाज दहशत में है. पुलिस तलाशी के दावे की लीक पीट रही है. एक समाज विशेष की ओर से जिला कलेक्ट्रेट के समक्ष विशाल प्रदर्शन की चेतावनी दी गई है. धोद पुलिस थाने में नव वधु के अपहरण का मामला दर्ज कराया गया है. जिले के धोद पुलिस थानान्तर्गत नागवा ग्राम में मंगलवार को दो बहिनों की शादी मोरडू्ंगा ग्राम के दो युवकों के साथ हुई.

विधि विधान से वैवाहिक कार्यक्रम के बाद बुधवार तड़के दोनों नव विवाहित जोड़ों को परिजनों की ओर से भावपूर्ण विदाई दी गई. नागवा से चार किलोमीटर रामबक्शपुरा गांव के निकट पहुंची बारात के वाहनों को दो बोलेरो जीप में आए हथियार बंद बदमाशों ने रोक कर पहले बारात की गाड़ी पर लाठी- सरियों से हमला बोला. उसके बाद कार में सवार एक दुल्हन को जबरन घसीट कर अपने साथ ले गए. घटना की जानकारी मिलते ही सदमें में आए परिजन मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी. आरंभिक जानकारी में पुलिस का मानना है कि अपहृत वधु के गांव के ही युवकों की ओर से ये वारदात की गई है. पुलिस ने मामला दर्ज कर जिले भर में नाकाबंदी कराई है तथा बदमाशों की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं.

जिले में लोकसभा चुनावों की प्रक्रिया के दौरान हुई संगीन वारदात को लेकर समूचा समाज भयभीत है. पांच दिन पूर्व ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की उपस्थिति में उपमुख्यमंत्री सहित करीब आधा दर्जन मंत्रियों की सीकर में हुई चुनावी सभा में जिले में कानून व्यवस्था में मजबूती का दावा किया गया था. निकटवर्ती उदयपुरवाटी के विधायक राजेन्द्र गुढा की ओर से इस मामले को लेकर राजपूत समाज की ओर से सीकर जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन करने की चेतावनी दी गई है. राजपूत महासभा शेखावाटी के अध्यक्ष दयाल सिंह ने वारदात का शीघ्र खुलासा कर बदमाशों की गिरफ्तारी की मांग की गई है.


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*