Thursday , 20 June 2019

लखनऊ के ‘बड़े मंगल’ को मिलेगी ग्लोबल पहचान,भंडारे के लिए होगा पंजीकरण

लखनऊ, 20 मई (उदयपुर किरण). लखनऊ में ‘बड़े मंगल’ पर भण्डारा लगाने वाले आयोजकों को इस बार पंजीकरण कराना होगा. लखनऊ में वर्षों से चली आ रही धार्मिक परम्परा बड़े मंगल को ग्लोबल पहचान दिलाने के लिए वेबसाइट लांच की गयी है. इस वेबसाइट पर पंजीकरण की सुविधा पूर्णतया नि:शुल्क है.
लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया, राष्ट्रीए एकता मिशन के अध्यक्ष डा. हरमेश चौहान और मंगलमान आयोजन समिति के संयोजक डा. राम कुमार तिवारी ने www.mangalman.in पोर्टल का उद्घाटन किया.
गौरतलब है कि यूपी की राजधानी लखनऊ में ज्येष्ठ मास के ‘बड़ा मंगल’ की विशेष महत्ता है. ज्येष्ठ मास में पड़ने वाले सभी मंगलवार को ‘बड़े मंगल’ के नाम से जाना जाता है. बड़ा मंगल को लोग ‘कामना पूरी’ के नाम से मानते हैं.  इस बार ज्येष्ठ माह का पहला बड़ा मंगल 21 मई को पड़ रहा है. इस बार 4 बड़ा मंगल पड़ेगा. इस बार बड़ा मंगल सर्वार्थ सिद्धियोग में रहने से शुभ योग बनेगा.
महापौर संयुक्ता भाटिया ने प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि स्वच्छता नगर निगम की प्राथमिकता सूची में है और जन भागीदारी के माध्यम से ही इस लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है. अगर भंडारा के आयोजकों द्वारा समय का समय पता चल जाता है तो नगर निगम की तरफ से टीम भेजकर सफाई भी कराई जायेगी.
महापौर संयुक्ता भाटिया ने कहा कि जो करेगा मंगलमान उसका हम करेंगे सम्मान. जिन भंडारे के आयोजक स्वच्छता का विशेष ध्यान रखेंगे तो उन्हें सम्मानित किया जायेगा. मंगलमान आयोजन समिति के संयोजक डा. राम कुमार तिवारी ने बताया कि यह समिति बड़े मंगल के धार्मिक आयोजन को सामाजिक सरोकार से जोड़ने का काम करेगी. हमारा प्रयास रहेगा कि लोग भण्डारा लगाने के साथ स्वच्छता का भी ध्यान रखें.
उन्होंने बताया कि भंडारा आयोजकों को एकसूत्र में पिरोना और धार्मिक आयोजनों को सामाजिक सरोकारों से जोड़कर परम्परा को सुदृढ़ सशक्त और प्रभावी बनान इस समिति का उद्देश्य है. मोबाइल नंबर 8652146768 और 9792399201 पर फोन कर भी अपना विवरण नोट करा सकते हैं.
ज्योतिषाचार्य संजय तिवारी ने बताया कि बड़ा मंगल को बजरंग बली की सच्चे मन से पूजा करने वालों को बल, बुद्धि, विद्या एवं महालक्ष्मी की प्राप्ति होती है. साथ ही, श्रद्धा भाव से किए गए भक्तों की सेवाओं से भगवान राम व उनके अनन्य भक्त मारुति नंदन प्रसन्न होते हैं.
 उन्होंने बताया कि बड़ा मंगल के दिन गुड़, गेंहू, मीठे पूड़ी का प्रसाद चढ़ाना चाहिए. इस दिन दान का विशेष फल देते हैं. पं. संजय तिवारी बताते हैं कि भगवान शंकर और श्रीराम ने हनुमान को वरदान दिया था कि ज्येष्ठ माह के सभी मंगलवार को उनकी विशेष पूजा होगी. इस माह हनुमान का दर्जा राम से भी बड़ा होगा. इसी मान्यता के चलते ज्येष्ठ माह के सभी मंगलवार को बड़ा मंगल मानते हुए श्रद्धालु विशेष पूजा अर्चना करते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*