Sunday , 21 July 2019

नौ वर्षीय बच्ची को बुरी नियत से उठा ले जाने वाले आरोपित को पांच साल का कारावास

खरगोन, 11 जुलाई (उदयपुर किरण). खरगौन जिले के एक अदालत ने गुरुवार को एक नौ वर्षीय नाबालिग बच्ची को बहला-फुaसलाकर कर ले जाने वाले आरोपित को पांच वर्ष के कारावास की सजा सुनाई है. यह फैसला बड़वाह के प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश कमल जोशी की अदालत ने सुनाया है. मामले में अभियोजन की ओर से पैरवी सहायक जिला लोक अभियोजन अधिकारी चंपालाल मुजाल्दे द्वारा की गई.

अभियोजन मीडिया प्रभारी रमेश जाट ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि 30 मार्च 2017 को सुबह 9.30 से 10 बजे के बीच ग्राम कदवाल्या की 9 वर्षीय नाबालिग अपने घर के बाहर खेल रही थी, तभी उसकी चिल्लाने आवाज आई. इस पर उसकी मां ने घर से बाहर निकलकर देखा तो एक लड़का उसे बहला-फुसलाकर बिना नंबर की मोटरसाइकिल पर उसे बैठकार ले जा रहा था. बच्ची की मां के चिल्लाने के पर उनके पति पति रामचंद्र और अन्य लोग वहां आ गए और आरोपित को पकड़ लिया. पूछताछ में आरोपित ने अपना नाम रूसी उर्फ ऋषि निवासी मौलाना आजाद मार्ग बड़वाह बताया. पीड़ित बच्ची ने अपनी मां को बताया कि आरोपित रूसी उर्फ ऋषि उससे कह रहा था कि उसके साथ चल, उसे बिस्किट देगा एवं बुरी नियत से उसके दोनों गालों पर काट लिया.

बच्ची के परिजनों की शिकायत पर बड़वाह थाना पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर अभियोग पत्र न्यायालय में प्रस्तुत किया. प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश कमल जोशी ने गुरुवार को आरोपित रूसी उर्फ ऋषि को धारा 366 भादवि में पांच वर्ष के कारावास एवं 100 रुपये का अर्थदंड, धारा 354 भादवि में पांच वर्ष का कारावास एवं 100 रुपये का अर्थदंड, धारा 9(एम)/10 लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 में पांच वर्ष का कारावास एवं 100 रुपये का अर्थदंड एवं धारा 363 भादवि में तीन वर्ष का कारावास एवं 100 रुपये के अर्थदंड से दंडित किया.

Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News Today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*