Tuesday , 16 July 2019

बादलों की आवाजाही फिर भी नहीं बरस रहे मेघ

जोधपुर, 13 जुलाई (उदयपुर किरण). मारवाड़ में मानसून की बारिश का इंतजार लगातार बढ़ता जा रहा है. बादलों की आवाजाही तो कई जिलों में हो रही है लेकिन मेघ बिन बरसे ही यहां से दूरी बना रहे है. दक्षिण पश्चिमी मानसून पूर्वोत्तर राज्यों में कोहराम मचा रहा है जबकि प्रदेश में अभी तक औसत बारिश का आकंड़ा भी दर्ज नहीं हो सका है. प्रदेश में जल संसाधन विभाग के लगे रेनगेज सूखे पड़े हैं और लगातार तीन दिन से अधिकांश स्टेशनों पर बारिश शून्य दर्ज हो रही है. दूसरी तरफ मौसम विभाग ने अगले 48 घंटे में पूर्वोत्तर इलाकों में मौसम तंत्र सक्रिय होने पर बारिश का दौर शुरू होने की उम्मीद जताई है.
इधर आज भी ज्यादातर इलाकों में मौसम शुष्क रहा. आज दिन और रात के तापमान में आंशिक उतार चढ़ाव रहने व दिन में धूप की तपिश से थोड़ी राहत मिली. बीते पांच दिन से ज्यादातर जिलों में बारिश का दौर थमे रहने के कारण गर्मी और उमस परेशान कर रही है. वहीं अगले 24 घंटे में भी बारिश होने की उम्मीद बहुत कम है. यहां के बाशिंदे गर्मी और उमस से परेशान है. पश्चिमी हवाएं चलने पर दिन में गर्मी तीखे तेवर दिखा रही है तो सूर्यास्त के बाद उमस भी बेचैनी बढ़ा रही है.
गौरतलब है कि मौसम विभाग ने बताया था कि प्रदेश में मानसून कमजोर पड़ गया है. एक सप्ताह तक भी बारिश के कोई संकेत नजर नहीं आ रहे है. बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती परिसंचार (साइक्लोनिक सर्कुलेशन) बनने के बाद प्रदेश में बारिश की स्थितियां बनेगी. इसके बाद मानसून गति पकड़ेगा. प्रदेश में सात दिन पहले आए मानसून ने पूर्वी राजस्थान को ही कवर किया, पश्चिमी क्षेत्र शेष है.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*