Tuesday , 16 July 2019

देश विरोधी ताकतों के खिलाफ बीएचयू के छात्र उबले, कड़ी कार्रवाई की मांग

वाराणसी, 13 जुलाई (उदयपुर किरण). देश विरोधी गतिविधियों, आतंकवाद, नक्सलवाद के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई की मांग कर शनिवार शाम काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) के छात्रों ने जमकर प्रदर्शन किया. विश्वविद्यालय के लंका स्थित मुख्य द्वार पर जुटे विद्यार्थियों ने अपनी मांगों के समर्थन में तख्तियां लहराकर देश विरोधी ताकतों के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. छात्रों के प्रदर्शन की जानकारी पाते ही मौके पर लंका पुलिस के साथ कई थानों की फोर्स पहुंच गई. अफसरों के समझाने बुझाने के बाद प्रदर्शन में शामिल उग्र छात्र वापस परिसर में लौट गये.
प्रदर्शन में शामिल शोध छात्र अरुण चौबे ने बताया प्रो. साई बाबा प्रकरण एवं भीमा कोरेगांव हिंसा के बाद देश में नक्सलियों के माड्यूल सामने आये हैं. इसके विरोध में हम लोगों ने प्रदर्शन कर इनके खिलाफ सुरक्षा बलों से कड़ी और प्रभावी कार्रवाई की मांग की हैं. केन्द्र की मोदी सरकार से पोटा कानून को पुनः अधिनियमित करने, एनएसए एवं यूएपीए एक्ट को और मजबूत करने की हमारी प्रमुख मांग हैं.
अन्य छात्र नेताओं ने कहा कि हाल ही में देश में गिरफ्तार शहरी एवं शैक्षिक नक्सलियों की संपत्तियों को जब्त करने, देश के शिक्षण संस्थानों के संदिग्ध गतिविधियों वाले शिक्षकों की जांच कर उन पर विधिक कार्रवाई करने,देश में अलगाववाद, नक्सलवाद एवं जिहादी मानसिकता एवं गतिविधियों का समर्थन करने वाले शिक्षण संस्थानों के कर्मियों की सेवा समाप्त करने का समय आ गया हैं. मोदी सरकार ऐसे लोगों के खिलाफ कठोर और प्रभावी कार्यवाही करे. प्रदर्शन में आशीष आशूं, सुधांधु, दीपक श्रीवास्तव सहित छात्र शामिल रहें.

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*