Wednesday , 23 May 2018
Breaking News
800 किलो घी, 500 किलो सफेद और 350 किलो काले तिल की हवन में दी आहुतियां

800 किलो घी, 500 किलो सफेद और 350 किलो काले तिल की हवन में दी आहुतियां

बांसवाड़ा. जिले के पालोदा कस्‍बे के पास प्रसिद्ध भोलेनाथ लसाड़ा धूणी पर पंचकुंडी श्रीनारायण विष्णु याग, सहस्त्र चंडी याग, महारुद्र याग, लक्ष्मीनारायण याग और मंदिर प्रतिष्ठा महोत्सव के चौथे दिन दुर्गा सप्तशती के पाठ, महारुद्र हवन व विष्णु यज्ञ आदि धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया.

सूत्रों के अनुसार पिछले 4 दिनों के दौरान 15 यज्ञ वेदियों में भुदेवताओं ने जल, वायु व पर्यावरण शुद्धि के लिए 800 किलो घी, 500 किलो सफेद तिल व 350 काले तिल के साथ, 51 प्रकार कि औषधि युक्त वनस्पतियों के द्वारा निर्मित समिधाएं को वेद मंत्रों के उच्चारण के साथ आहूत किया . वहीं संमिधाओं के माध्यम से आमजन को पर्यावरण संरक्षण की भी शिक्षा दी गई. शुक्रवार को आयोजित प्रतिष्ठा कर्म में मूर्ति महा न्यास और अष्ट दिकपाल होम प्रमुख आकर्षण रहे. जहां मूर्ति महा न्यास में 5 शिखर कलश स्वर्ण कलश सहित, सिंह की प्रतिमा, भैरव जी की प्रतिमा, सरस्वती की व दो गणेश प्रतिमा, देवी यंत्र व भोलेनाथ की मूर्ति का सर्व औषधियों, रत्नों के अर्क से अभिषेक किया गया. कार्यक्रम के मुख्य आचार्य ने बताया कि 300 से अधिक भूदेवता सुबह काल से ही अपने धर्म – कर्म के कार्याे में लग जाते है, जिससे पूराक्षेत्र ओमकार व मंत्रों के उच्चारण से गुंजायमान हो उठता है, वही इस तरह के वातावरण से आमजन को लसाडा धूणी पर वैदिक काल सी अनुभूति होने लगी है . वही संध्याकाल मे धूणी पर भजन – कीर्तन का आयोजन होता है जहां आमजन ढोल व मंजीरों कि थाप पर थिरकते नजर आते है.

The post 800 किलो घी, 500 किलो सफेद और 350 किलो काले तिल की हवन में दी आहुतियां appeared first on .

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*