Sunday , 2 April 2023

केंद्रीय जेल में निरुद्ध होने के बाद भी चिकित्सक को मिला वेतन अपर निदेशक चिकित्सा विंध्याचल मण्डल ने दिया जाँच का आदेश

प्रभुनाथ शुक्ला /भदोही उत्तर प्रदेश
25 जुलाई भदोही जनपद का स्वास्थ्य विभाग अपने कारनामों को लेकर अक्सर चर्चा में बना रहता हैं. सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भदोही से एक बड़ा मामला सामने आया हैं. यहाँ पर तैनात सीएचसी के चिकित्साधिकारी का जेल में निरुद्ध रहने की अवधि का वेतन भी आहरित कर दिया गया. इस मामलें में विंध्याचल मण्डल के चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण के अपर निदेशक ने जाँच का आदेश दिया है.
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भदोही के चिकित्साधिकारी डॉक्टर धनेश कुमार पटेल का माह जुलाई 2021 से दिसम्बर, 2021 तक का वेतन आहरित कर दिया गया है. जबकि डॉ धनेश कुमार पटेल 20 नवम्बर 2021 से 25 नवम्बर 2021 तक एक मुकदमे में आरोपी होने की वजह से नैनी प्रयागराज जेल में निरूद्ध थे. जेल में रहने के दौरान वेतन आहरण का कोई शासनादेश नही हैं. प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए अपर निदेशक ने सीएचसी भदोही के अधीक्षक से स्पष्टीकरण माँगा हैं.
स्पष्टीकरण सन्तोषजनक नहीं पाये जाने पर सीएचसी अधीक्षक के विरुद्ध विभागीय कार्यवाही की चेतावनी दी है. अपर निदेशक ने तत्काल सम्बन्धित प्रकरण की समस्त जानकारी से महानिदेशालय को अवगत कराने का निर्देश दिया और बिना अनुमति के डॉ धनेश कुमार पटेल का एलपीसी जारी न करने का निर्देश दिया हैं. इस मामलें में सीएमओ सन्तोष कुमार चक से बातचीत की गई तो उन्होंने बताया कि प्रकरण संज्ञान में है दो दिनों में मामलें की उच्च स्तरीय जाँच कर रिपोर्ट अपर निदेशक को भेज दी जाएगी.

केंद्रीय जेल में निरुद्ध होने के बाद भी चिकित्सक को मिला वेतन अपर निदेशक चिकित्सा विंध्याचल मण्डल ने दिया जाँच का आदेश