Thursday , 16 August 2018

रोमन एवं बुंदेली कलाकृतियों का नमूना है महेन्द्र भवन: लोकेन्द्र

पन्‍ना, 12 अगस्‍त (उदयपुर किरण). पन्ना का प्रसिद्ध महेन्द्र भवन अपनी रोमन एवं बुंदेली कलाकृतियों को संजोए हुए एक बेजोड़ नमूना अब कुछ महीने बाद ही हेरिटेज होटल के रूप में तब्दील हो जायेगा.

रविवार को राजपरिवार के वरिष्ठ सदस्य एवं पूर्व सांसद लोकेन्द्र ने बताया कि महेन्द्र भवन संभवतः पूरे हिन्दुस्तान का पहला विशाल एतिहासिक भवन है जो दो कलाकृतियों पर निर्मित है. इसका सामने वाला भाग हमारे पूर्वज महाराजा माधव सिंह ने सन 1895 में रोमन कला पर निर्मित कराया था. पीछे वाला राम मन्दिर रोड वाला हिस्सा महाराजा अमान सिंह ने सन 1700 की शुरुआत में बनवाया था जो पूर्णतः बुंदेली कलाकृति पर निर्मित है.

उन्होंने इसके हेरिटेज होटल बनने को उचित ठहराते हुए कहा कि अब चूंकि राजपरिवार का उसमें कोई मालिकाना हक नहीं है तो पर्यटन विभाग की देखरेख में जाने से उसकी उचित देखभाल हो सकेगी.

Report By Udaipur Kiran

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*