शेखर कपूर को लाइफटाइम कॉन्ट्रिब्यूशन टू यूके-इंडिया रिलेशंस अवॉर्ड से नवाजा गया

प्रसिद्ध फिल्म निर्माता शेखकर कपूर को हालही में 5वें एनुअल यूके-इंडिया अवॉर्ड्स में यूके-भारत संबंधों में अपने लाइफटाइम योगदान के लिए प्रतिष्ठित इंडिया ग्लोबल फोरम के विशेष अवॉर्ड से सम्मानित किया गया.
यह अवॉर्ड जो यूके भारत अवॉर्ड्स का सबसे बड़ा सम्मान है. शेखर कपूर को दोनों देशों के बीच संबंधों को मजबूत करने में उनके असाधरण समर्पण और अद्वितीय प्रयासों के चलते यह अवॉर्ड दिया गया. शेखर की दूरदर्शी कहानी, दोनों संस्कृतियों की गहन समझ और उनके उल्लेखनीय कार्यों ने वैश्विक साझेदारी पर एक अद्भुत छाप छोड़ी है.
इस कार्यक्रम में यूके और भारत के बीच सहयोग को बढ़ावा देने और मजबूत संबंध बनाने में शेखर कपूर जैसे लीडर्स द्वारा निभाई गई भूमिका को प्रदर्शित किया गया. 29 जून को आयोजित कार्यक्रम में यूनाइटेड किंगडम और भारत के बीच साझेदारी का जश्न और उसे मान्यता देने के लिए विभिन्न क्षेत्रों के 400 से अधिक प्रसिद्ध नेता एक साथ आये. इस कार्यक्रम में यूके के प्रधानमंत्री ऋषि सुनक सहित कई मशहूर और ख्यातिप्राप्त लोग शामिल हुए.
शेखर कपूर ने सबसे प्रतिभाशाली लेखकों में से एक के रूप में वैश्विक प्रतिष्ठा हासिल की. उनकी फिल्में एलिजाबेथ और एलिज़ाबेथ:द गोल्डन एज ने ऑस्कर जीत है और उनकी हालिया फ़िल्म ‘व्हाट्स लव गॉट टू डू विद इट’ को हाल ही में 9 ब्रिटिश राष्ट्रीय फ़िल्म के लिए नॉमिनेट किया गया था. निर्देशक ने अपनी सुपरहिट निर्देशित पहली फिल्म “मासूम” के सीक्वल पर काम करने की खबरों से भी सुर्खियां बटोरीं.

शेखर कपूर को लाइफटाइम कॉन्ट्रिब्यूशन टू यूके-इंडिया रिलेशंस अवॉर्ड से नवाजा गया