यमुना में बढ़ते जलस्तर पर केजरीवाल ने हरियाणा को ठहराया जिम्मेदार, केंद्र से दखल का किया अग्रह

नयी दिल्ली. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राजधानी में यमुना के जलस्तर में बढोतरी के लिए हरियाणा सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए केंद्र सरकार से इस मामले दखल देने का आग्रह किया है. श्री केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, “केंद्रीय जल आयोग ने यमुना के जलस्तर के 207.72 मीटर तक आज रात पहुंचने की भविष्यवाणी की है. दिल्ली के लिए यह अच्छी खबर नहीं है. दिल्ली में पिछले दो दिनों से बारिश नहीं हुई है, लेकिन हरियाणा द्वारा हथिनीकुंड बैराज से भारी मात्रा में पानी छोड़े जाने के कारण यमुना का जलस्तर बढ़ रहा है. केंद्र से अपील है कि वह इस मामले में दखल दे और हरियाणा सरकार से यह सुनिश्चित करने को कहे कि यमुना का जलस्तर और न बढने पाये.”
उन्होंने कहा कि दिल्ली में यमुना आज 207.55 मीटर तक बढ़ गई जिसने 1978 में बनाए गए 207.49 मीटर के अपने रिकॉर्ड को तोड़ दिया. मुख्यमंत्री ने यमुना के बढ़ते जलस्तर को देखते हुए आपात बैठक बुलाई है.
सिंचाई एवं बाढ़ नियंत्रण मंत्री सौरभ भारद्वाज ने कल कहा था कि दिल्ली सरकार किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है और डूब क्षेत्र से लोगों को निकालना शुरू कर दिया गया है. प्रभावित इलाकों में रहने वाले लोगों को दिल्ली के अलग-अलग जिलों में बने शिविरों में स्थानांतरित किया जा रहा है. इसके अलावा विभागीय अधिकारियों को सतर्क रहने और संवेदनशील क्षेत्रों में आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए है. वहीं, डूब क्षेत्र में लोगों की मदद के लिए त्वरित प्रतिक्रिया दल और नौकाएं तैनात की गई हैं.


Posted

in

,

by

Tags: